बूढ़ी दिवाली की गिरीपार क्षेत्र में धूम, नाटियों और लोक गीतों पर झूमे लोग

बूढ़ी दिवाली की गिरीपार क्षेत्र में धूम, नाटियों और लोक गीतों पर झूमे लोग

बूढ़ी दिवाली की गिरीपार क्षेत्र में धूम, नाटियों और लोक गीतों पर झूमे लोग

डलहौज़ी हलचल (संगडाह) विजय आजाद  :  नोहराधार क्षेत्र के  भराड़ी गांव में हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम में मशहूर लोक कलाकार ठाकुर रघुवीर , सुरेन्द्र नटियाल , सिरमौरी क्वीन मोनिका शर्मा और  मुजरा किंग देवराज भराडू ने अपनी नाटियों और लोक गीतों से खूब समा बांधा। देशभर में मनाई जाने वाली दिवाली पर्व के एक महीने बाद जिला सिरमौर के गिरिपार क्षेत्र में बूढ़ी दिवाली मनाई जाती है। जिसे हाटी समुदाय के लोग बड़े ही हर्ष और उल्लास के साथ कई वर्षो से मनाते आ रहे है।   आज भी गिरिपार के हाटी समुदाय के लोगों ने अपनी इस परम्परा को  संजोये रखा हैं। इस पर्व की खास बात यह है कि इसमें क्षेत्र की पारम्परिक लोक संस्कृति की शानदार झलक देखने को मिलती है। गिरिपार क्षेत्र में मनाई जाने वाली बूढ़ी दिवाली की बुधवार को शुरूआत हो गई। पहले दिन गांवों में जश्न का वातावरण दिखाई दिया।

नाटी किंग ठाकुर रघुवीर ने सांस्कृतिक कार्यक्रम का आगाज शिरगुल महिमा से किया। इसके बाद उन्होंने  एक से बढ़ कर एक नाटी गीतों से श्रोताओं को मन्त्रमुग्ध कर दिया। पहाड़ी लोक गायक सुरेंदर नटियाल व देवराज भराडू ने कार्यक्रम प्रस्तुत कर खूब वाहवाही लूटी। इन्होंने पारम्परिक नाटी गाकर युवाओं के साथ साथ बुजुर्गों को भी नाचने पर विवश कर दिया।