Movie prime
485 करोड़ से होगा सुकेती खड्ड का तटीकरण, केन्द्रीय टेक्निकल अप्रूवल कमेटी के पास पहुंचा स्वीकृति का मामला
485 करोड़ से होगा सुकेती खड्ड का तटीकरण, केन्द्रीय टेक्निकल अप्रूवल कमेटी के पास पहुंचा स्वीकृति का मामला 
 
डलहौज़ी हलचल (मंडी) : मंडी जिले में सुकेती खड्ड के तटीकरण पर 485 करोड़ रुपये खर्चे जाएंगे। तटीकरण परियोजना की स्वीकृति का मामला दिल्ली में केन्द्रीय टेक्निकल अप्रूवल कमेटी के पास पहुंच चुका है। कमेटी की अप्रूवल मिलते ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा। यह जानकारी जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने दी।

वे बुधवार को मंडी में जिला प्रशासन और जल शक्ति विभाग के आला अधिकारियों के साथ विभिन्न विकास परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में मौजूद रहे विधायक कर्नल इंद्र सिंह, विनोद कुमार और राकेश जम्वाल ने भी विकास परियोजनाओं को गति देने को लेकर अपने बहुमूल्य सुझाव दिए।

जलशक्ति मंत्री ने कहा कि सुकेती खड्ड तटीकरण परियोजना से मंडी जिले के 4 विधानसभा क्षेत्र मंडी, बल्ह, नाचन और सुंदरनगर के लोग सीधे तौर पर लाभान्वित होंगे और एक बड़े क्षेत्रफल में कृषि योग्य भूमि का बाढ़ से बचाव होगा ।

हिमाचल जल जीवन मिशन में अव्वल, आगे भी ऐसे ही डट कर करें काम

  जलशक्ति मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में जल जीवन मिशन के कार्यान्वयन में हिमाचल देशभर में अव्वल रहा है। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री श्री गजेंद्र शेखावत ने भी इसके लिए प्रदेश सरकार की तारीफ की है। जलशक्ति विभाग के सभी अधिकारियों-कर्मचारियों ने मिशन के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए जी-जान से काम किया है। उन्होंने सभी से आगे भी मिशन के तहत इसी तरह डट कर काम करने का आग्रह किया।

पुरानी परियोजनाओं के सुधार व स्तरोन्नयन पर दें बल

महेंद्र सिंह ठाकुर ने अधिकारियों को पेयजल व सिंचाई की पुरानी परियोजनाओं के सुधार व स्तरोन्नयन पर बल देने को कहा। उन्होंने जिले में बन कर तैयार नई परियोजनाओं को शुरू करने के लिए बिजली ट्रांसफार्मर लगवाने जैसे कार्यों को अविलंब कराने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माणाधीन परियोजनाओं को और गति देने को भी कहा।

इस मौके उपायुक्त अरिंदम चौधरी, जलशक्ति विभाग के मुख्य अभियंता धर्मेंद्र गिल, अधीक्षण अभियंता उपेंद्र वैद्य सहित अन्य अधिशाषी अभियंता, एसडीएम रितिका जिंदल व राजस्व अधिकारी राजीव सांख्यान उपस्थित रहे।