Movie prime
छात्रों को गुणात्मक शिक्षा उपलब्ध करवाना सरकार की प्राथमिकता -सरवीण चौधरी
छात्रों को गुणात्मक  शिक्षा उपलब्ध करवाना सरकार की प्राथमिकता -सरवीण चौधरी
 
डलहौजी हलचल (धर्मशाला) : छात्रों को गुणात्मक शिक्षा, सुगमता और घर के नजदीक उपलब्ध करवाना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। शिक्षा के साथ-साथ स्कूलों के भवनों और अन्य शिक्षण सुविधाओं की उपलब्धता पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

यह जानकारी सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी ने  राजकीय  वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला रेहलु के वार्षिकोत्सव में लोगों को संबोधित करते हुए दी। साथ ही बच्चों को वार्षिक उत्सव की बधाई दी । सांस्क्रतिक कार्यक्रम के लिए बच्चों  ब्च्चों को 8 हज़ार देने की घोषणा की।

सरवीण ने  कहा कि प्रदेश के सरकारी संस्थान छात्रों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध करवा रहे हैं और सरकार  भी शिक्षण संस्थानों उच्च सुविधाएं उपलब्ध करवा रही है। उन्होंने कहा कि अनुभवी अध्यापक बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिये कड़ी मेहनत कर रहे हैं। सरवीण ने कहा कि अध्यापक अपने छात्रों को बड़ा और काबिल बनाने के साथ-साथ अच्छा और श्रेष्ठ इंसान भी बनाये ताकि यह अपने परिवार और देश की चिंता भी करें। उन्होंने कहा कि अध्यापक छात्रों को शिक्षा के साथ नैतिकता, ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा का ज्ञान भी अवश्य दें।

सरवीण ने गड़प्पा खड्ड  नज़दीक गोज्जु स्कूल  में  पुल बनाने पर 40 .00 लाख , राजकीय उच्च विद्यालय दरगेला  4 क्लास रूम  बनाने के  लिए 56 लाख , बसनूर में स्वास्थ्य उपकेंद्र बनाने के लिए 30 लाख तथ नाबार्ड के अंतर्गत  गड़प्पा मोड़ बागड़ू बसनूर से पोहाड़ा  सड़क पर 3.50 करोड़  रुपये व्यय किये जायँगे ।इसके अलावा 18.00 लाख   रेहलु दरगेला पलवाला  सड़क , 15 लाख  हरिजन बस्ती से दुर्गेला संपर्क सड़क , रघुबीर शर्मा के घर तक ई इंटरलॉक टायल 4  लाख , 10 लाख राजकीय उच्च विद्यालय में एक  क्लास रूम  तथा 3 लाख  दुर्गेला में  युवक मण्डल भवन बनाने के लिये  व्यय किये गए  । ये सब कार्य पूर्ण हो चुके हैं ।

गाँव बलड़ी  में सम्पर्क सड़क की सीसी पेवमेन्ट पर 10 लाख तथा  इसपर पुलिया बनाने पर 4 लाख रुपये व्यय किये जायेंगे ।

सरवीण ने अपने संबोधन  में बताया कि पेयजल योजना रेहलु रैत नेरटी पर 130 लाखबहाव सिंचाई योजना रेहलु नागन कुहल के निर्माण पर 152 लाख रुपये व्यय किये गए । इसके अलावा शाहपुर विधानसभा के अन्तर्ग पेयजल स्त्रोतों के सुधार के लिए 36.25 करोड़ रु खर्च किये जायँगे ।

मन्त्री महोदया ने बताया कि  हिमाचल के इतिहास में ये पहली बार हुआ है शाहपुर आई टी आई में  सी टी आई  की कक्षाएं शुरू हो रही हैं  जिसमें ड्राफ्ट्समैन के कोर्स होंगे । इस से पूर्व लोगों को ये कोर्स करने के लिए बाहर के ज़िलों में जाना पड़ता था । इसके उपरांत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने रेहलु में लोगों की समस्याओं को सुना। अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया तथा शेष समस्याओं के समाधान के लिए सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए ।

इससे पहले विद्यालय के प्रधानाचार्य रिशु सम्बयाल  ने मुख्यातिथि का स्वागत किया और विद्यालय की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की तथा बच्चों द्वारा सास्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर उत्कृष्ट छात्रों को पुरस्कार भी वितरित किए।

इस अवसर पर एक्सईएन विद्युत सन्दीप चौधरी एसडीओ जल्शक्ति अनिल कुमार , जेई लोकनिवि अग्नेश , प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य एडवोकेट दीपक अवस्थी , शिक्षक संघ के प्रांत अध्यक्ष पवन कुमार , महामंत्री अमरीश परमार, चेयरमैन विजय , पूर्व बीडीसी चेयरमैन अश्विनी चौधरी ,   प्रधानचार्य लदवाड़ा अजय आचार्य ,प्रधान रेहलु सीमा प्रधान  लड़वाड़ा  योग राज चड्ढा ,प्रधान गोरडा सुनीता , प्रधान भनाला सुषमा ,उपप्रधान जन्म सिंह ,   विभिन्न स्कूलों के प्रधानाचार्य, स्थानीय पंचायत प्रतिनिधी, विभिन्न विभागों से आए अधिकारी व कर्मचारी, स्कूली बच्चे, बच्चों के अभिवावक व स्थानीय लोग उपस्थित रहे।