Movie prime
बकलोह वॉर मेमोरियल पहुंचने पर स्वर्णिम विजय मशाल यात्रा का हुआ भव्य स्वागत
बकलोह वॉर मेमोरियल पहुंचने पर स्वर्णिम विजय मशाल यात्रा का हुआ भव्य स्वागत
 

 

डलहौज़ी हलचल (ककीरा) भूषण गुरंग :  1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में भारत की ऐतिहासिक जीत के 50 स्वर्णिम वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में 16 दिसंबर 2020 से राष्ट्रीय युद्ध स्मारक नई दिल्ली से शुरू हुई स्वर्णिम विजय मशाल यात्रा मंगलवार को बकलोह कैंट में पहुंची।

स्वर्णिम विजय मशाल यात्रा के बकलोह वॉर मेमोरियल पहुंचने पर सेना मैडल प्राप्त कर्नल संजय सिंह स्पैशल टास्क फ़ोर्स बकलोह की अध्यक्षता में आर्मी बैंड की धुनों के साथ सैन्य अधिकारियों , भूतपूर्व सैनिकों और  स्थानीय लोगों द्वारा स्वागत किया गया और यहां मौजूद लोगों ने भारत-पाकिस्तान युद्ध के नायकों के सर्वोच्च बलिदान के सम्मान में शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की। वहीँ मुख्य अतिथि के रूप में मेजर विनोद छेत्री उपस्थित रहे।

इस अवसर पर चालीस से अधिक पूर्व सैनिकों को सम्मानित करते हुए उन्हें उपहार दिए गए और देश के लिए की गई उनकी सेवाओं के लिए उनका आभार जताया गया। वहीँ स्वर्णिम विजय वर्ष के उपलक्ष में आयोजित ट्रेल रन में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले पांच लड़कों और चार लड़कियों को पुरस्कृत किया गया।

इस अवसर पर क्षेत्र के कई सम्मानित व्यक्तियों ने यहाँ पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई विजय मशाल यात्रा यहाँ से अपने अगले पढाव मामून कैंट के लिए रवाना होगी। बता  दें कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 दिसंबर 2020 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक नई दिल्ली से वर्ष 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की ऐतिहासिक जीत के स्वर्णिम 50 वर्ष के उत्सव पर स्वर्णिम विजय मशाल को जलाकर रवाना किया था। तब से स्वर्णिम विजय मशाल देशभर में भ्रमण कर रही है।