Movie prime
लाहौल- स्पीति जिला को क्षय रोग मुक्त बनाने की दिशा में स्वास्थ्य विभाग उठाए प्रभावी कदम- उपायुक्त
 
डलहौज़ी हलचल (केलांग) : उपायुक्त लाहौल- स्पीति नीरज कुमार ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग जिला को क्षय रोग मुक्त करने की दिशा में सभी प्रभावी कदम उठाए। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ आज क्षय रोग उन्मूलन अभियान की समीक्षा को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान में जिला में रोगियों की जो संख्या 23 की है उनकी संख्या को 19 तक लाने को लेकर अभियान के तय मानदंडों के अनुसार कार्य योजना के तहत काम  करते हुए लक्ष्य को समय सीमा के भीतर हासिल किया जाए।

स्वास्थ्य विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ जगदीश ने उपायुक्त को अवगत करते हुए कहा कि लाहौल- स्पीति जिला में क्षय रोग  उन्मूलन अभियान में प्राप्त किए गए लक्ष्यों के आधार पर स्वर्ण पदक प्राप्त करने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। गौरतलब है कि इससे पहले क्षय रोग उन्मूलन अभियान में लाहौल-स्पीति जिला को रजत पदक भी प्राप्त हो चुका है।

उपायुक्त ने इस बात की जरूरत पर भी जोर दिया कि वर्तमान में जो रोगी उपचाराधीन हैं उनसे उपचार संबंधी पूरा फीडबैक निरंतर हासिल किया जाए ताकि ये सुनिश्चित हो सके कि परामर्श के अनुरुप उपचार चल रहा है। उन्होंने कहा कि अभियान में जो इंडिकेटर तय किए गए हैं उनमें यदि कहीं कोई गैप हो तो उसे हर हाल में पूरा किया जाए।

उपायुक्त ने यह भी कहा कि लाहौल- स्पीति में स्वास्थ्य विभाग को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत प्राप्त होने वाले फंड की मौजूदा स्थिति की समीक्षा करने भी आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि सहायक आयुक्त इसको लेकर अलग से स्वास्थ्य विभाग के साथ बैठक करेंगे ताकि वास्तविक स्थिति स्पष्ट हो। 

उपायुक्त ने यह भी कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी लाभार्थियों तक पहुंचनी चाहिए ताकि वे उनका पूरा लाभ उठा सकें। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अलावा केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कई योजनाओं का कार्यान्वयन किया जा रहा है। बैठक में सहायक आयुक्त डॉ रोहित शर्मा और मुख्य चिकित्सा  अधिकारी डॉ मदन बंधु के अलावा अन्य विभागीय अधिकारी भी मौजूद रहे।