Movie prime
गर्भवती महिलाओं के लिए संजीवनी बनी मातृ वंदना योजना -नीलम नैय्यर
 
 डलहौज़ी हलचल (चंबा) : अध्यक्ष नगर परिषद नीलम नैय्यर ने कहा कि गर्भवती महिलाओं और बच्चों के विकास  के लिए महत्वकांक्षी प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना संजीवनी बनी है । इस योजना के तहत पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को 5 हजार रुपयों की आर्थिक मदद प्रदान करने का प्रावधान है । नीलम नैय्यर आज महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में आयोजित किए जा रहे मातृ वंदना सप्ताह के शुभारंभ अवसर पर पंचायत भवन करियां में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए बोल रही थीं ।

उन्होंने कहा कि मातृ वंदना सप्ताह सात सितंबर तक मनाया जाएगा I मातृ वंदना योजना के मुख्य उद्देश्य को लेकर जानकारी देते हुए नीलम  नैय्यर   ने कहा कि  दैनिक कार्य करने वाली महिलाओं को मजदूरी के एवज में नुकसान की भरपाई करने के लिये आर्थिक क्षतिपूर्ति के रूप में प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करवाने के लिए प्रावधान रखा गया है । इसके अलावा उचित आराम और पोषण की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है। प्रोत्साहन राशि का भुगतान हितग्राही के आधार से जुड़े बैंक खाते अथवा डाकघर खाते में सीधे जमा की जाती है। पात्र हितग्राही महिला को गर्भावस्था का पंजीयन शीघ्र कराने पर एक हजार रुपए पहली किश्त, कम से कम एक प्रसव पूर्व जांच (गर्भावस्था के 6 माह बाद) के बाद द्वितीय किश्त 2 हजार रुपए तथा बच्चे के जन्म का पंजीकरण और उसके प्रथम चक्र का टीकाकरण पूरा होने पर 2 हजार रुपए की तीसरी किश्त देय होती है।

उन्होंने सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि इस महत्वकांक्षी योजना का सभी पात्र महिलाओं को लाभ मिलना सुनिश्चित बनाया जाना चाहिए । उन्होंने इस दौरान धात्री महिलाओं को बेबी किट भी प्रदान किए । जिला कार्यक्रम अधिकारी बालकृष्ण शर्मा ने  नीलम नैय्यर का स्वागत किया ।

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि अब तक जिला में योजना के तहत 13982 महिलाओं को 6 करोड़ सात लाख रूपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई गई है I उन्होंने कहा कि संस्थागत प्रसव में वृद्धि एवं गर्भवती महिलाओं को विशेष सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना को जिला में प्रभावी कार्यान्वयन सुनिश्चित बनाया जा रहा है ।

इस दौरान जिला कार्यक्रम समन्वयक मनोहर नाथ ने आंगनबाड़ी केंद्र, सैक्टर या परियोजना स्तर पर योजना के प्रचार-प्रसार के लिए किए जा रहे कार्यों का ब्यौरा रखा । इस अवसर पर बाल विकास परियोजना अधिकारी  नीलम धीमान, जिला सहायक समन्वयक अरुण चौहान , वृत पर्यवेक्षिका  सीमा देवी और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया ।