Movie prime
पैराग्लाइडिंग और ड्रैगन बोट रेस प्रतियोगिता होंगी स्वर्ण जयंती समारोह का हिस्सा
 
डलहौज़ी हलचल (चंबा) : उपायुक्त डीसी राणा ने कहा है कि  "स्वर्णिम हिमाचल" के तहत "राज्यत्व की स्वर्ण जयंती समारोह" की श्रृंखला में ज़िला में आयोजित होने वाली विभिन्न गतिविधियों में "चलो चंबा" अभियान के तहत अक्टूबर माह में प्रस्तावित राष्ट्रीय स्तर की पैराग्लाइडिंग और ड्रैगन बोट रेस प्रतियोगिता स्वर्ण जयंती समारोह का हिस्सा होंगी ।

उपायुक्त आज "राज्यत्व की स्वर्ण जयंती समारोह" की श्रृंखला के तहत ज़िला में आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की  तैयारियों  को लेकर  कॉन्फ्रेंस हाल आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे ।

बैठक में विभिन्न विभागों द्वारा आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के 50 वर्ष की विकास यात्रा पर आधारित इन कार्यक्रमों में मुख्यमंत्री सहित अतिविशिष्ट व्यक्ति ज़िला के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों के प्रवास पर होंगे। ऐसे में सभी ज़िला अधिकारी अपने विभाग से संबंधित कार्यक्रम की रूपरेखा को जल्द अंतिम रूप प्रदान करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने कहा कि "चलो चंबा" अभियान के तहत   प्रस्तावित  पैराग्लाइडिंग और ड्रैगन बोट रेस प्रतियोगिता स्वर्ण जयंती समारोह का हिस्सा होंगी । उपायुक्त ने नेहरू युवा केंद्र संगठन के जिला युवा अधिकारी से इस दौरान माउंटेन बाइकिंग -साइकिलिंग प्रतियोगिता के आयोजन को लेकर कार्य योजना तैयार करने  को कहा ।

उपायुक्त ने इन आयोजनों के दौरान युवा पीढ़ी को नशे के दुष्प्रभावों से अवगत करवाने के लिए विभिन्न विभागों के सहयोग से जागरूकता गतिविधियों को आयोजन में शामिल  करने के निर्देश दिये ।

डीसी राणा ने ज़िला कल्याण अधिकारी से नशे के  दुष्प्रभावों  से आमजन को अवगत करवाने और नशे के दलदल में फंसे लोगों में सकारात्मकता  लाने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म आधारित प्रचार सामग्री तैयार करने को कहा ।

उन्होंने जागरूकता कार्यक्रमों में एनएसएस, रेड क्रॉस, नेहरू युवा केंद्र संगठन के स्वयंसेवी, युवक मंडल, महिला मंडल और विभिन्न समाजसेवी संगठनों के पदाधिकारियों की भागीदारी को भी सुनिश्चित बनाए जाने का आग्रह किया।

बैठक में "स्वर्णिम हिमाचल" के तहत निर्धारित किए गए "गोल्डन गोल्स" की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने ज़िला में कार्यशील सभी  गौसदन में वर्मी कंपोस्ट यूनिट स्थापित करने के निर्देश भी दिए ।

बैठक में कृषि , पशुपालन, स्वास्थ्य, शिक्षा, जल शक्ति, लोक निर्माण, ऊर्जा, पर्यटन, वन , सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता और सहकारिता विभाग सहित अन्य महत्वपूर्ण विभागों द्वारा आयोजित किए जाने वाले  विभिन्न कार्यक्रमों पर विस्तृत चर्चा भी की गई ।

इस अवसर पर अतिरिक्त ज़िला दंडाधिकारी अमित मेहरा, ज़िला पर्यटन विकास अधिकारी विजय कुमार, उप पुलिस अधीक्षक अभिमन्यु, उपनिदेशक उच्च शिक्षा प्यार चंद चाढक , उपनिदेशक कृषि कुलदीप धीमान, उपनिदेशक आरंभिक शिक्षा हितेंद्र कुमार, उपनिदेशक पशुपालन डॉ राजेश सिंह , उपनिदेशक एवं जिला परियोजना अधिकारी ग्रामीण विकास अभिकरण चंद्रवीर सिंह,चिकित्सा अधीक्षक डा. देवेंद्र कुमारजिला कल्याण अधिकारी नरेंद्र जरियाल, ज़िला भाषा अधिकारी तुकेश शर्मा, जिला योजना अधिकारी गौतम शर्मा, ज़िला रोजगार अधिकारी अरविंद चौहान, जिला खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति नियंत्रक विजय हमलाल , अधिशासी अभियंता जल शक्ति अरशाद रहमान , अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग राजेंद्र शेखरी ,पंजीयक सहकारी संस्थाएं जरम सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।