Movie prime
मनरेगा कार्य में हुई धांधली, बीडीओ ऑफिस की टीम ने रोका काम
 
डलहौज़ी हलचल (चुवाड़ी) : प्रदेश में मनरेगा में गोलमाल के आरोप नए नहीं हैं। मनमानी से लेकर फर्जीवाड़ा होने की शिकायतें लगातार सुनाई देती हैं। इसी तरह का एक मामला चुवाड़ी  की एक पंचायत में आया है। उपमंडल के तहत बन रही एक एंबुलेंस योग्य सड़क के निर्माण को लेकर बीडीओ कार्यालय की टीम ने मौके पर पहुंच काम रोकने के निर्देश दिए। विकास खंड चुवाड़ी में काहरी पंचायत में मनरेगा कार्य में धांधली की शिकायत के बाद कार्य बन्द करने के बीडीओ निर्देशों के बाद भी काम जारी रहने का मामला सामने आया है। मामला कालीघोड़ी से बन्नी एंबुलेंस मार्ग का है। आरोप यह कि 1.6 किलोमीटर लंबी यह सड़क कागजों में बन चुकी है जबकि अभी इसका निर्माण ही पुरा नहीं हुआ है। पूर्व पंचायत प्रधान पिंकी देवी तथा ग्रामीणों के अनुसार इस सारे प्रकरण में बड़े स्तर पर धांधली हुई है। बिलों में उस निर्माण सामग्री का भुगतान किया गया जो निर्माण स्थल पर पहुंची ही नहीं तथा किराया भी बढ़ा कर बताया गया।

इस संदर्भ की शिकायत मिलने के बाद मौके पर पहुंचे खंड विकास अधिकारी भटियात ने मस्टर रोल न होने की बात कहते हुए काम बन्द करने के निर्देश दिए। वहीं शनिवार को भी सड़क निर्माण का कार्य चलता रहा। हालांकि सम्बन्धित प्रधान ने आरोपों को गलत बताया है। शिकायतकर्ता पूर्व प्रधान पिंकी देवी ने कहा कि मनरेगा कार्यों में धांधली हुई है तथा जांच के बाद पूरी सच्चाई सामने आ जाएगी। उन्होंने कहा कि सीमेंट तथा ढुलाई के नाम पर पंचायत में खूब मनमानी कर सरकारी खजाने को चूना लगाया गया है। इसके बाद खंड विकास अधिकारी ने पंचायत निरीक्षक तथा कनिष्ठ अभियंता को मौके पर भेजा गया। इस संदर्भ में जानकारी देते हुए मौके पर मौजूद कनिष्ठ अभियंता नवीन ने बताया कि काम को बंद करवा दिया गया है। वहीं उन्होने बताया कि टीम मौके पर है तथा पूर्व प्रधान समेत शिकायतकर्ता पक्ष तथा मौजूदा पंचायत प्रधान के बयान कलमबद्ध किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि सीमेंट के गोलमाल की शिकायत को लेकर भी स्टेटमेंट दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि मामले की व्यापक जांच की जा रही है तथा फिलहाल काम बन्द रखने के निर्देश जारी किए गए हैं।

उधर इस संदर्भ में जब मौजूदा पंचायत प्रधान शालू देवी से आरोपों को लेकर पक्ष जाना गया तो उनका कहना था कि आरोप निराधार हैं तथा कार्य में पूरी गुणवत्ता बरती गई है। उन्होंने सीमेंट के गोलमाल के आरोप से इंकार करते हुए कहा कि पूरे सीमेंट की खपत यहां की गई है। उधर इस संदर्भ में बीडीओ भटियात बशीर खान ने बताया कि टीम मौके पर भेजी गई है तथा जांच के बाद ही कारवाई की जाएगी। उन्होने बताया कि शुक्रवार को यह काम बंद करवाने के बावजूद शनिवार को फिर से काम चालू होने की शिकायत मिलने के बाद टीम को मौके पर भेजा गया है।