Movie prime
अवकाश से लौटे कर्मचारियों के हुए आरटी पीसीआर टेस्ट
उपायुक्त लाहौल-स्पीति ने जारी किए थे आदेश
 
डलहौज़ी हलचल (केलांग) : अवकाश के बाद जिला मुख्यालय केलांग वापस आए विभागीय कर्मचारियों के आज स्वास्थ्य विभाग द्वारा आरटी पीसीआर टेस्ट किए गए। गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के विस्तार पर अंकुश लगाने के मकसद से उपायुक्त लाहौल-स्पीति नीरज कुमार ने एक आदेश जारी करके अवकाश काटने के बाद वापस घाटी में आने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए भी आरटी पीसीआर टेस्ट अनिवार्य कर दिए हैं।

टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट के बाद ही वे  अपनी ड्यूटी ज्वाइन कर पाएंगे। इसी कड़ी में उपायुक्त कार्यालय परिसर में आज स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा कर्मचारियों के आरटी पीसीआर टेस्ट करके नमूने लिए गए। इस मौके पर एसडीएम प्रिया नागटा और सहायक आयुक्त डॉ रोहित शर्मा ने भी स्वैच्छिक तौर पर अपना आरटी पीसीआर टेस्ट करवाया।

उपायुक्त नीरज कुमार ने कहा कि घाटी में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जहां प्रवासी मजदूरों टेस्ट और टीकाकरण की प्रक्रिया को चलाया जा रहा है वहीं विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए भी तय किया गया है कि जब वे अवकाश की अवधि खत्म होने के बाद वापस आएंगे तो तभी ड्यूटी ज्वाइन करेंगे जब उनकी रिपोर्ट नेगेटिव होगी।

उन्होंने ये भी कहा कि सभी विभागीय अधिकारी यह हाल में सुनिश्चित बनाएं कि जब भी उनका अधीनस्थ अधिकारी या कर्मचारी अवकाश के बाद वापिस आएगा तो ड्यूटी तभी ज्वाइन करेगा जब उसकी टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव होगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा औचक निरीक्षण भी अमल में लाए जा सकते हैं ताकि यह पता चल सके कि अवकाश ग्रहण करने वाले किसी अधिकारी या कर्मचारी ने बिना नेगेटिव रिपोर्ट कार्यालय में अपनी उपस्थिति तो नहीं दी है।