Movie prime
एसएचओ नादौन रिश्वत के पैसे ले फरार, विजिलेंस की टीम पर गाड़ी चढ़ाने का किया प्रयास
एसएचओ नादौन रिश्वत के पैसे ले फरार, विजिलेंस की टीम पर गाड़ी चढ़ाने का किया प्रयास
 
डलहौज़ी हलचल (हमीरपुर) :- जिला हमीरपुर के नादौन पुलिस थाने में तैनात एसएचओ नीरज राणा पर रिश्वत लेने और बाद में रिश्वत के पैसों सहित फरार होने के आरोप लगे हैं। बताया जा रहा है कि मंगलवार को एसएचओ को रंगे हाथ गिरफ्तार करने पहुंची विजिलेंस टीम को पैसे लेकर चकमा देकर एसएचओ गाड़ी में सवार होकर फरार हो गया। हालांकि, विजिलेंस की टीम ने गाड़ी को तो पकड़ लिया परंतु आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। हुआ यूं कि, एसएचओ नादौन नीरज राणा ने मवेशियों को पठानकोट लेकर जाने की अनुमति देने के एवज में 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगी।

विजिलेंस डीएसपी लालमण शर्मा ने बताया कि थाना प्रभारी के खिलाफ शिव सिंह निवासी मंडी ने भी थाने में शिकायत दर्ज करवाई है। उन्‍होंने बताया कि जब विजिलेंस टीम एसएचओ को पकड़ने लगी तो उसने उनपर गाड़ी चढ़ाने का भी प्रयास किया। विजिलेंस टीम ने सड़क से नीचे कूदकर अपनी जान बचाई। फरार एसएचओ की गाड़ी विजिलेंस ने बरामद कर ली है लेकिन एसएचओ अभी तक पकड़ में नहीं आया है। विजिलेंस को मिली शिकायत के अनुसार शिकायतकर्ता ने आरोप लागाया कि एसएचओ नादौन ने मवेशियों को पठानकोट लेने जाने की अनुमति देने के एवज में 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगी और पैसा न देने पर फर्जी मामले में फंसाने की धमकी दी थी।

शिकायत के आधार पर विजिलेंस ने एसएचओ को रंगे हाथ पकड़ने के लिए जाल बिछाया था। एसएचओ अपनी निजी कार से मौके पर पहुंचा और शिकायतकर्ता से रिश्वत की राशि ले ली। इसी बीच जब विजिलेंस की टीम उसे दबोचने लगी तो वह एकदम अपनी कार में बैठ गया। जब उसे रोकने का प्रयास किया गया तो उसने टीम पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया। एसएचओ को पकड़ने के लिए जिला से बाहर जाने वाले सभी मार्गों पर पुलिस तैनात कर दी गई है।

बता दें कि नदौन से पहले  राणा एसएचओ ज्वाली, एसएचओ मैक्लोडगंज के अलावा विजीलेंस विभाग में भी सेवाएं दे चुके हैं। प्रोवेशनल पीरियड के दौरान वह वर्तमान डीएसपी बड़सर जसवीर ठाकुर के समय पुलिस थाना नादौन में भी सेवाएं कुछ समय के लिए दे चुके हैं।