Movie prime
मेजर दुर्गा मल की याद में बकलोह के गोरखा समुदाय ने मनाया बलिदान दिवस
 
 

डलहौज़ी हलचल (ककीरा) भूषण गुरंग  : आज बकलोह के गोरखा सभा भवन के प्रांगण में गोरखा समुदाय के लोगों द्वारा भारत के वीर सपूत मेजर दुर्गा मल का बलिदान दिवस मनाया। मेजर दुर्गा मल साथ ही बकलोह के 8 वीर सपूतों जिन्होंने देश के लिए सर्वोच्व बलिदान दिया उन्हें भी श्रद्धांजलि अर्पित की गई । गोरखा समुदाय के लोगो का कहना है कि मेजर दुर्गा मल ने देश के आजादी के लिए अहम योगदान दिया है। उन्हे 25 अगस्त 1944 को ब्रिटिश हकूमत ने दिल्ली में फांसी पर लटका दिया गया था। इसके बाद से ही समूचे देश में गोरखा समुदाय के लोग इस दिन को बलिदान दिवस के रूप मे मनाते हैं।

.लोगो का कहना है कि भारतीय गोरखा समुदाय ने भारत के स्वतंत्रता के आंदोलन में सक्रिय भाग लेकर देश के आजादी के लिए अपने प्राणों की बलि दी है। पहली जुलाई 1913 को देहरादून के गाँव डोइ वाला में पैदा हुए दुर्गामल ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के दांडी मार्च तथा सत्याग्रह आंदोलन मे भी भाग लिया था।

इस कार्यक्रम में सबसे पहले गोरखा सभा के सभापति विजय गुरूंग द्वारा देश के लिये मर मिटने वाले वीर सपूतों को बलिदान दिवस के अवसर पर श्रद्धांजलि दी । उसके बाद आए हुए सभी गोरखा समुदाय के लोगों द्वारा श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके में गोरखा सभा के सभापति के विजय गुरूंग ने  मेजर दुर्गा मल के जीवन पर प्रकाश डाला।