Movie prime
दिव्यांग जन को समाज के साथ जोड़ने में बोशिया खेल की भूमिका महत्वपूर्णः विवेक भाटिया
 
डलहौज़ी हलचल (सोलन) : इण्डियन एसोसिएशन आॅफ मस्क्यूलर डिस्ट्राॅफी द्वारा सोलन के कोठों स्थित मानव मंदिर में बोशिया खेल के 07 दिवसीय राष्ट्रीय स्तरीय प्रशिक्षण शिविर का गत दिवस समापन हो गया। समापन कार्यक्रम की अध्यक्षता सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक विवेक भाटिया ने की।

विवेक भाटिया ने इस अवसर पर कहा कि दिव्यांग जन को समाज के साथ जोड़ने में ऐसे खेलों की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग जन में असीमित प्रतिभा होती है और सही प्रशिक्षण तथा प्रोत्साहन से इस प्रतिभा को निखारा जा सकता है। उन्होंने प्रशिक्षण शिविर में उपस्थित सभी दिव्यांग खिलाड़ियों का आह्वान किया कि वे स्वयं को किसी से कम न समझें और बोशिया जैसे खेल के साथ जुड़े रहें।

उन्होंने कहा कि मस्क्यूलर डिस्ट्राॅफी जैसे गम्भीर रोग से पीड़ित रोगियों के पुनर्वास के आईएएमडी सराहनीय कार्य कर रही है। उन्होंने आशा जताई कि संस्था भविष्य में आधुनिक सोच एवं परिकल्पना के साथ इस दिशा में अपना कार्य जारी रखेगी।

विवेक भाटिया ने शिविर में उपस्थित बोशिया खिलाड़ियों के साथ बातचीत कर उनका उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि यह शिविर बोशिया खिलाड़ियों को राष्ट्रीय तथा अन्तरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में भाग लेने में सहायता करेगा। उन्होंने कहा कि जीवन में वास्तविक नायक सही अर्थों में बोशिया खिलाड़ी तथा मस्क्यूलर डिस्ट्राॅफी से पीड़ित रोगी हैं जिन्होंने हमारी सोच से परे जाकर दैनिक जीवन की कठिनाईयों पर विजय प्राप्त की है।

उन्होंने मानव मंदिर में इण्डियन एसोसिएशन आॅफ मस्क्यूलर डिस्ट्राॅफी द्वारा स्थापित सुविधाओं की सराहना की। उन्होंने बोशिया खिलाड़ियों को सम्मानित भी किया।

आईएएमडी की अध्यक्ष संजना गोयल ने राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षण शिविर के सफल आयोजन एवं समापन के लिए सभी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि बोशिया फेडरेशन के अध्यक्ष जसप्रीत धालीवाल के प्रयासों से यहां बोशिया कोर्ट स्थापित हुआ है। उन्होंने दिल्ली के उद्योगपति राजेन्द्र चामरिया द्वारा संस्था को 05 लाख रुपए उपलब्ध करवाने के लिए आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर इण्डियन एसोसिएशन आॅफ मस्क्यूलर डिस्ट्राॅफी की अध्यक्ष संजना गोयल, सचिव विपुल गोयल, संस्था की प्ररेणा एवं संरक्षक उमा बाल्दी सहित अन्य सदस्य एवं बोशिया खिलाड़ी उपस्थित थे।