Movie prime
लेफ्टिनेंट कर्नल बिक्रमजीत सिंह के शहीदी दिवस पर दी उन्हें श्रद्धांजलि
 
डलहौज़ी हलचल (बिलासपुर) : लेफ्टिनेंट कर्नल बिक्रमजीत सिंह के शहीदी दिवस के मौके पर रविवार को उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान उनके माता पिता ने एक ईंट शहीद के नाम अभियान के तहत बिलासपुर बन में रहे शहीद स्मारक के लिए अपना योगदान देकर बेटे को याद किया। उन्होंने शहीद स्मराक के लिए एक ईंट भेंट की और कहा कि शहीदों के लिए बन रहे स्मारक के लिए वह हर तरह का सहयोग देने को तैयार हैं।

रविवार को एक ईंट शहीद के नाम अभियान के संयोजक राणा शहीद बिक्रमजीत सिंह के घर गए और उनकी बहादुरी को याद करते हुए उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए गए। सेक्टर-18 के रहने वाले बिक्रमजीत सिंह 26 सितंबर 2013 को जम्मू में हुए आतंकी हमले में शहीद हो गए थे।

बिक्रमजीत सिंह की माता लवप्रीत और पिता रि. मेजर पीजे सिंह ने उनसे जुड़ी यादें साझा की। मां लवप्रीत ने बताया कि शहादत से कुछ समय पहले ही उनकी बिक्रमजीत से बात हुई थी। वह रोज सुबह शाम माता-पिता को नमस्कार करता और फिर अपने दिन की शुरुआत करता था। रि. मेजर पीजे सिंह ने बताया कि बिक्रमजीत सिंह ने आतंकियों द्वारा किए गए हमले में खुद को झोंक कर अपने साथियों की जान बचाई। बेशक वह आज इस दुनिया में नहीं है लेकिन वह आज भी सुबह शाम उसकी प्रतिमा को गुडमार्निंग ईवनिंग बोलते हैं। इस मौके पर एक ईंट शहीद के नाम अभियान के संयोजक संजीव राणा ने कहा कि चंडीगढ़ के महान सपूत के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। शहीदों के सम्मान में और नई पीढ़ी को उनसे जोड़ने के लिए ही वह यह अभियान भी चला रहे हैं। जिसके तहत कई शहीदी स्मारक बनाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। इस मौके पर संजीव लखनपाल समेत अन्य लोग उपस्थित थे।