Movie prime
डलहौजी में कला एवं हस्तशिल्प मेला संपन्न
डलहौजी में कला एवं हस्तशिल्प मेला संपन्न 
 
डलहौज़ी हलचल (चंबा) : डलहौजी के युवा छात्रवास परिसर में 19 नवंबर से चल रहा पांच दिवसीय राज्यस्तरीय कला एवं हस्तशिल्प मेला संपन्न हो गया। प्रोफेसर सौरभ ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। एसडीएम डलहौजी जगन ठाकुर ने मुख्य अतिथि को सम्मानित किया। मेले के बारे में जानकारी दी। कहा चंबयाल प्रोजेक्ट पर गंभीरता से काम किया जा रहा है।

निफ्ट कांगड़ा के प्रोफेसर सौरभ ने कहा कि यह खुशी की बात है कि पर्यटन नगरी डलहौजी में प्रदेश के हस्तशिल्पियों को प्रोत्साहित करने व उन्हें एक मंच प्रदान करने के उद्देश्य से राज्यस्तरीय कला एवं हस्तशिल्प मेले का आयोजन किया गया। प्रोफेसर सौरभ ने कहा कि मेले में प्रदर्शित सभी प्रकार के हस्तशिल्प उत्पाद उच्च कोटि के हैं और उम्मीद है कि ये उत्पाद स्थानीय लोगों व पर्यटकों को भी खूब पसंद आए होंगे। उन्होंने इस आयोजन के लिए प्रदेश सरकार, ज़िला प्रशासन व एसडीएम डलहौजी जगन ठाकुर के प्रयासों की सराहना की।

निफ्ट कांगड़ा के प्रोफेसर सौरभ ने कहा कि यह खुशी की बात है कि पर्यटन नगरी डलहौजी में प्रदेश के हस्तशिल्पियों को प्रोत्साहित करने व उन्हें एक मंच प्रदान करने के उद्देश्य से राज्यस्तरीय कला एवं हस्तशिल्प मेले का आयोजन किया गया। प्रोफेसर सौरभ ने कहा कि मेले में प्रदर्शित सभी प्रकार के हस्तशिल्प उत्पाद उच्च कोटि के हैं और उम्मीद है कि ये उत्पाद स्थानीय लोगों व पर्यटकों को भी खूब पसंद आए होंगे। उन्होंने इस आयोजन के लिए प्रदेश सरकार, ज़िला प्रशासन व एसडीएम डलहौजी जगन ठाकुर के प्रयासों की सराहना की।

इस कला एवं शिल्प मेले में चंबा रुमाल, कांगड़ा पेंटिंग, चंबा चप्पल, लकड़ी के आर्ट से बने नमूने और आकृतियां, देव संस्कृति से जुड़ी देव मूर्तियां और अन्य वस्तुएं शिल्पकला के नमूनों के रूप में मेले में शामिल थीं। मेले में बुनकर उत्पाद और हस्तशिल्प से बनी वस्तुओं को भी स्थानीय लोगों व पर्यटकों ने खूब सराहा जबकि जीआइ टैग से विशेष पहचान बना चुकी चंबा चप्पल के स्टाल पर भी लोगों ने चंबयाली चप्पलों की खरीद की। वहीं ऊना के शिल्पकार द्वारा बैंबू आर्ट से अलग-अलग तरह की कलाकृतियां के उत्पादों व कांगड़ा, सोलन के पाइन नीडल कला के तहत उत्पाद की भी पर्यटकों ने सराहना की। मेले में आए शिल्पकारों ने डलहौजी में शिल्प कला मेले का आयोजन करने पर व हस्तशिल्पियों को एक मंच प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार, उपायुक्त चंबा डीसी राणा और एसडीएम जगन ठाकुर व स्थानीय लोगों का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर डा. ज्योति अहलावत, प्रोफेसर अल्पा, सुरेंद्र ठाकुर, अमन, बलदेव खोसला सहित अन्य कई लोग मौजूद रहे थे।