Movie prime
वीरचक्र विजेता रिटायर्ड कर्नल पंजाब सिंह का निधन,मुख्यमंत्री ने जताया शोक
 

डलहौज़ी हलचल (हमीरपुर) : भारत-पाक युद्ध 1971 में वीरता का लोहा मनवाने वाले वीर चक्र विजेता रिटायर्ड कर्नल 79 वर्षीय पंजाब सिंह का सोमवार को निधन हो था। चंडीगढ़ के सेक्टर-25 के श्मशानघाट में सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। वह हमीरपुर जिला की बमसन ब्लाक की पंचायत सिकांदर के रहने वाले थे तथा हमीरपुर शहर के वार्ड नंबर सात में रहते थे। उनके निधन पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शोक जताया है। उन्होंने कहा कि पंजाब सिंह को उनकी वीरता एवं राष्ट्रभक्ति के लिए सदैव स्मरण किया जाएगा।

बता दें कि पंजाब सिंह कुछ दिन पहले कोरोना संक्रमित हुए थे। चंडीमंदिर स्थित कमांड अस्पताल में इलाज के बाद स्वस्थ होकर घर लौटे थे, लेकिन कोरोना होने के बाद पड़ने वाले प्रभावों के चलते उनका देहांत हो गया। 21 मई को उनके बड़े बेटे अनिल कुमार की भी कोरोना से मौत हो गई थी। पंजाब सिंह ने कमीशन पास कर 1967 में 6-सिख बटालियन ज्वाइन की थी। उन्होंने इस बटालियन को अक्टूबर, 1986 से जुलाई, 1990 तक कमांड किया। सेवानिवृत्ति के बाद प्रदेश सैनिक कल्याण बोर्ड के डायरेक्टर रहे। इसके अलावा हिमाचल प्रदेश दक्षिणी क्षेत्र के इंडियन सर्विस लीग के वाइस प्रेसिडेंट भी थे।

पंजाब सिंह के निधन पर सुजानपुर हलके के विधायक राजेंद्र राणा, कांग्रेस सोशल मीडिया अध्यक्ष अभिषेक राणा, ब्लाक अध्यक्ष कैप्टन ज्योति प्रकाश, पूर्व सैनिक विभाग के अध्यक्ष सूबेदार मदन लाल, सूबेदार मस्तराम गुलेरिया, सूबेदार अनंत राम, कर्नल शीतल कुमार गुप्ता, कर्नल सुदीप सत्संगी व कर्नल यशवंत सिंह ने गहरा शोक व्यक्त किया है।