Movie prime
संस्कृत महाविद्यालय फागली में 5 स्मार्ट क्लास निर्मित की जाएगीः सुरेश भारद्वाज
संस्कृत महाविद्यालय फागली में 5 स्मार्ट क्लास निर्मित की जाएगीः सुरेश भारद्वाज
 
डलहौज़ी हलचल (शिमला) :- फागली स्थित संस्कृत महाविद्यालय को प्रदेश का आदर्श संस्कृत महाविद्यालय बनाने के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। यह विचार शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य, विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने गत देर रात फागली स्थित संस्कृत महाविद्यालय के भवन का लोकार्पण करने के उपरांत व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि न केवल प्रदेश अपितु देश में संस्कृत का भविष्य उज्जवल है। इसके प्रति छात्रों मंे रूचि जागृत करने के लिए शिक्षक वृंदों एवं संस्कृत भाषा से सम्बद्ध लोगों को प्रयास करने होंगे।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में संस्कृत को दूसरी राजभाषा का दर्जा प्रदान किया गया है, जिसके तहत राजकाज के कार्यों को संस्कृत में अनुवादित करने के लिए अनुवादकों की आवश्यकता की पूर्ति संस्कृत विद्यालय के विद्यार्थियों से की जा सकती है। उन्हांेने कहा कि इस माध्यम से संस्कृत विद्यार्थियों के लिए रोजगार सृजित होगा, इसी अनुरूप भाषा विभाग व अन्य विभागों में अनुवादक के कार्य के लिए संस्कृत छात्रों की मांग रहेगी।

उन्होंने कहा कि इस महाविद्यालय को आधुनिक सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से पांच स्मार्ट क्लासिज़ आरम्भ की जाएगी। इसके साथ-साथ इस महाविद्यालय में संस्कृत भाषा को लेकर शोध व अन्य कार्य हो सकेंगे। इस दृष्टि से संस्कृत भाषा प्रयोगशाला का भी प्रावधान इसमें किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि प्रदेश के 50 काॅलेजों मंे संस्कृत भाषा प्रयोगशाला आवंटित की गई है। उन्होंने कहा कि संस्कृत काॅलेज फागली के नए भवन के निर्माण से पुराने भवन को छात्रावास के रूप में प्रयोग करने के लिए सम्बद्ध विभाग अथवा सरकार से बातचीत की जाएगी।

उन्होंने संस्कृत काॅलेज को अपनी ऐच्छिक निधि से 51 हजार रुपये की राशि देने की घोषणा की।

इस अवसर पर निदेशक उच्चतर शिक्षा डाॅ. अमरजीत शर्मा ने अपने उद्बोधन में प्रदेश में शिक्षा के विस्तार के लिए किए जा रहे कार्यों का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि खेल ही स्वास्थ्य योजना को आत्मसात करते हुए शिक्षा के साथ-साथ खेल एवं विद्यार्थियों के स्वास्थ्य की प्रतिपूर्ति करने के लिए विभिन्न कार्य योजनाएं आरम्भ की जा रही है। 

इस दौरान संस्कृत काॅलेज के प्राचार्य मुकेश शर्मा ने स्वागत संबोधन में मंत्री महोदय का काॅलेज के लोकार्पण के लिए आभार व्यक्त किया तथा इसके निर्माण के प्रति समय-समय पर निरीक्षण व निगरानी कार्यों के लिए साधुवाद व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि शहरी विकास मंत्री के सक्रिय प्रयासों से यह भवन बनकर तैयार हुआ। उन्होंने इस अवसर पर काॅलेज गतिविधियों तथा नवनिर्मित भवन के निर्माण की प्रक्रिया के तहत किए गए कार्यों का भी उल्लेख किया।

कार्यक्रम में पार्षद सिमी नंदा, जगजीत सिंह बग्गा, कैलाश फेडरेशन के अध्यक्ष रवि मेहता, निदेशक उच्चतर शिक्षा अमरजीत शर्मा, अधीक्षण अभियंता लोक निर्माण विभाग सुरेश कपूर, अधिशाषी अभियंता प्रवीण वर्मा, पूर्व प्राचार्य भीष्म गुप्ता, संस्कृत विशेषाधिकारी डाॅ. प्रवीण कुमार विमल, वरिष्ठ कार्यकर्ता कल्याण चंद, पार्षद प्रत्याशी हेमलता, भाजपा युवा नेता शिव कुमार, भाजपा नेत्री सीमा कश्यप, काॅन्ट्रेक्टर पीके सूद तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।