Movie prime
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बालीचौकी को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा की
सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बालीचौकी को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा की
 
डलहौजी हलचल (मंडी) : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष कार्यक्रम की कड़ी में आज जिला मण्डी के सराज विधानसभा क्षेत्र के बालीचौकी में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस अवसर पर उन्होंने बालीचौकी क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन एवं शिलान्यास किए।

मुख्यमंत्री ने 4.94 करोड़ रुपये की लागत से रेशम उद्यमिता विकास एवं नवोन्मेष केन्द्र बालीचौकी तथा 87 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घनियार के भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने ग्राम पंचायत थाचाधार में 1.51 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना डीपीएफ जुफरकोट के पुनर्निमाण तथा रिमॉडलिंग का शिलान्यास, 98 लाख रुपये की लागत से तीर्थन खड्ड से बालीचौकी तथा अन्य क्षेत्रों के लिए जलापूर्ति योजना के स्त्रोत संवर्द्धन का शिलान्यास तथा जल शक्ति विभाग मण्डल बालीचौकी का शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत 75 वर्षों के दौरान प्रदेश में हर क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है और हिमचल देश के अन्य राज्यों के लिए मॉडल बनकर उभरा है। प्रदेश ने स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क, खाद्यान्न उत्पादन, फलोत्पादन, प्रति व्यक्ति आय, शत-प्रतिशत विद्युतीकरण सहित अनेक क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रगति की है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं तथा केन्द्र सरकार के वित्तीय सहयोग से विगत लगभग पौने पांच वर्षों के दौरान राज्य में हर वर्ग और हर क्षेत्र का विकास सुनिश्चित हुआ है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बालीचौकी को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने, अनुसूचित जाति बस्ती गोथला तथा काण्ढी में प्राथमिक पाठशालाएं खोलने, शलबाड़ क्षेत्र में स्वास्थ्य उप केन्द्र खोलने, बालीचौकी में खण्ड चिकित्सा अधिकारी का कार्यालय खोलने तथा राजकीय प्राथमिक पाठशाला थाटा को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि बालीचौकी क्षेत्र को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए यहां उपमण्डल अधिकारी कार्यालय, उप तहसील व तहसील कार्यालय, खण्ड विकास अधिकारी कार्यालय, रोजगार उप कार्यालय तथा कोषागार कार्यालय खोले गए हैं। उन्होंने कहा कि बालीचौकी में 12.60 करोड़ रुपये की लागत से लघु सचिवालय भवन का निर्माण, 16.27 करोड़ रुपये की लागत से सामुदायिक अस्पताल भवन का निर्माण, 5 करोड़ रुपये की लागत से सेरी उद्यमिता विकास एवं नवाचार केन्द्र का निर्माण, सराज और बालीचौकी क्षेत्र के लिए 121 करोड़ रुपये की पेयजल योजना का कार्य तथा बस अड्डे का निर्माण कार्य प्रगति पर है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सराज क्षेत्र में 98.25 करोड़ रुपये की लागत से शिक्षा विभाग के 40 भवनों का निर्माण कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि विगत पौने पांच वर्षों में सराज क्षेत्र में 528 किलोमीटर नई सड़कों का निर्माण किया गया तथा 268 किलोमीटर सड़कों की टारिंग व 235 किलोमीटर सड़कों की क्रॉस ड्रेनेज का कार्य किया गया। उन्होंने कहा कि 5 करोड़ रुपये की लागत से बालीचौकी पुल, 26 करोड़ रुपये की लागत से हनोगी पुल, 15 करोड़ रुपये की लागत से थलौट पुल, 2.5 करोड़ रुपये की लागत से रोपड़ी पुल, 8 करोड़ रुपये की लागत से लम्बाथाच पुल और 87 लाख रुपये की लागत से सुकेती खड्ड पुल का निर्माण किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान कार्यकाल के दौरान प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के हर क्षेत्र और वर्ग का समान विकास सुनिश्चित किया गया है। सराज क्षेत्र राजनीति और विकास की दृष्टि से शिखर पर है।

इस अवसर पर विधायक सुरेन्द्र शौरी ने भी सम्बोधित किया।

भाजपा मण्डल के अध्यक्ष भागीरथ ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।

इस अवसर पर दिल्ली के पूर्व विधायक मनोज कुमार, भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य, पंचायत समिति के अध्यक्ष, जिला परिषद के सदस्य, जिला भाजपा अध्यक्ष भीमसेन शर्मा, भाजपा नेता ब्रिगेडियर खुशहाल ठाकुर, उपायुक्त अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि और अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।