Movie prime
मुख्यमंत्री ने दून विधानसभा क्षेत्र के लिए 26 करोड़ रुपये की 13 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए
मुख्यमंत्री ने दून विधानसभा क्षेत्र के लिए 26 करोड़ रुपये की 13 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए
 
डलहौजी हलचल (सोलन) : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज दून विधानसभा क्षेत्र के बद्दी में हिमाचल प्रदेश के अस्तित्व के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित प्रगतिशील हिमाचलरू स्थापना के 75 वर्षसमारोह की अध्यक्षता करते हुए लगभग 26 करोड़ रुपये की 13 विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए। उन्होंने बद्दी में एसडीएम कार्यालय खोलने की घोषणा भी की।

  इस अवसर पर जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक संयोग ही है कि आज देश ने जहां आजादी के 75 वर्ष पूरे किए हैं, वहीं हिमाचल प्रदेश भी अपने अस्तित्व के 75वंे वर्ष में प्रवेश कर चुका है। उन्होंने कहा कि इन 75 वर्षों की गौरवशाली विकास यात्रा के उपलक्ष्य में प्रदेश सरकार ने हिमाचल के सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में 75 कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन समारोहों में हिमाचल के अब तक के सभी मुख्यमंत्रियों और आम जनता के योगदान का स्मरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इन सभी मुख्यमंत्रियों ने राज्य के विकास में अपार योगदान दिया है, लेकिन प्रदेश की इस गौरवशाली विकास यात्रा का असली श्रेय राज्य के मेहनती और ईमानदार लोगों को जाता है। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कुछ विपक्षी नेता राज्य सरकार की इस पहल का विरोध कर रहे हैं।

   जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य के गठन के समय केवल चार जिले थे, जबकि आज 12 जिले हैं। उन्होंने कहा कि 75 वर्षों के दौरान प्रदेश की साक्षरता दर 4.8 प्रतिशत से बढ़कर 83 प्रतिशत हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 1948 में राज्य में सड़कों की लंबाई केवल 228 किलोमीटर थी, जबकि आज राज्य के कोने-कोने को जोड़ने वाली लगभग 40,000 किलोमीटर सड़कें हैं। जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में सड़कों के विस्तार का सबसे अधिक श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जाता है। उन्होंने ही लगभग 60 हजार करोड़ रुपये की महत्वकांक्षी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की शुरुआत की थी और हिमाचल में लगभग 50 प्रतिशत सड़कों का निर्माण इसी योजना के माध्यम से किया गया है।

  मुख्यमंत्री ने कहा कि बद्दी क्षेत्र आज एशिया का सबसे बड़ा फार्मा हब है और इसका श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी जाता है, क्योंकि उन्होंने हिमाचल के लिए विशेष औद्योगिक पैकेज की घोषणा की थी, जिससे प्रदेश में बड़े पैमाने पर औद्योगिकीकरण का मार्ग प्रशस्त हुआ था। जय राम ठाकुर ने कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के लिए एक बल्क ड्रग पार्क स्वीकृत किया है जिसे ऊना जिले में स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय महत्व की यह परियोजना मिलना हिमाचल के लिए गौरव की बात है। इससे प्रदेश में बड़े पैमाने पर फार्मा उद्योग स्थापित होंगे तथा यहां कई वर्षों तक युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे। उन्होंने कहा कि पार्क की अनुमानित परियोजना लागत लगभग 1200 करोड़ रुपये है। इसमें से सामान्य बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए केंद्र सरकार 1000 करोड़ रुपये की राशि देगी।

 जय राम ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 महामारी से पूरी दुनिया पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सशक्त एवं दूरदर्शी नेतृत्व प्रदान करके देश को इस संकट बाहर निकाला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने न केवल इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए समय पर निर्णय लिए, बल्कि वैज्ञानिकों को भी स्वदेशी टीके विकसित करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में देश में सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान सफलतापूर्वक चलाया गया। उन्होंने कहा कि विपक्षी नेताओं ने इस वैक्सीन के संबंध में देश की जनता को गुमराह करने की भी कोशिश की। विपक्षी नेताओं के दुष्प्रचार का करारा जवाब देते हुए राज्य की जनता ने टीकाकरण अभियान में पूरा सहयोग दिया और हिमाचल प्रदेश कोरोना रोधी टीकों की पहली और दूसरी खुराक देने में पूरे देश में पहले स्थान पर रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राज्य की इस उपलब्धि की सराहना करते हुए हिमाचल प्रदेश को कोविड-19 टीकाकरण में चौंपियन स्टेटका खिताब दिया।

 मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 में कार्यभार संभालने के तुरंत बाद वर्तमान राज्य सरकार ने राजनीतिक प्रतिशोध की परंपरा को पूरी तरह समाप्त कर दिया। उन्होंने कहा कि पहले राज्य को टोपी के रंग के आधार पर भी राजनीतिक रूप से विभाजित किया जाता था, लेकिन उन्होंने इस परंपरा को भी खत्म कर दिया और अब प्रदेश सरकार की सराहनीय उपलब्धियों को देखते हुए लोग हिमाचल में सरकार को दोबारा सत्ता में न लाने की परंपरा को अवश्य खत्म करेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रदेश की जनता ने भाजपा सरकार को दोबारा सत्ता में लाने का मन बना लिया है।

 जय राम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस नेता चुनाव को देखते हुए अब झूठे वादे करके प्रदेश की जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह अजीब है कि जिस पार्टी के पास अपनी गारंटी नहीं है, वह राज्य के लोगों को दस गारंटी देकर लुभाने की कोशिश कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की जनता ने कांग्रेस को पूरी तरह से नकार दिया है और अब हिमाचल की जनता की बारी है कि आने वाले चुनाव में कांग्रेस को मुंहतोड़ जवाब दें। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दो वर्ष से अधिक का समय कोरोना महामारी से प्रभावित रहा, इसलिए पूरे पांच साल तक राज्य का भरपूर विकास सुनिश्चित करने के लिए जनता भाजपा सरकार को दोबारा सत्ता में लाने के लिए समर्थन दें।

मुख्यमंत्री ने विधानसभा क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र सरकार द्वारा लगभग 500 करोड़ रुपये के मेडिकल डिवाइस पार्क को स्वीकृति प्रदान की गई है, जिससे क्षेत्र के औद्योगिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने गांव खरोटा गुरदासपुरा एवं इसके साथ लगते गांवों के लिए जल जीवन मिशन के अन्तर्गत 3.76 करोड़ रुपये तथा कैलारांवाली बस्तियों एवं गांवों के समूह के लिए 79 लाख की लागत से निर्मित उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं का शुभारम्भ किया। उन्होंने नाबार्ड के अन्तर्गत कुंजहाल मुस्लिम बस्ती दस्सोमाजरा के लिए 1.92 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं, बद्दी में 75 लाख रुपये की लागत के तहसील कल्याण कार्यालय भवन, बद्दी में 4.20 करोड़ रुपये की लागत केे मॉडल करियर सेंटर भवन, साई तथा घरेड़ में 50-50 लाख रुपये की लागत के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र भवनों, बनबीरपुर खड्ड पर 1.91 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुल, रत्ता खड्ड के ऊपर गांव अक्कांवली के लिए 1.36 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित सम्पर्क सड़क तथा बद्दी में किशनपुरा तहसील में पुलिस आधुनिकीकरण योजना के तहत 1.06 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुलिस क्वार्टरों का शुभारम्भ किया।

मुख्यमंत्री ने जल जीवन मिशन के अन्तर्गत जल शक्ति विभाग ट्यूबवेल उपमण्डल बद्दी में 3.45 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न उठाऊ जलापूर्ति योजनाओं के स्त्रोत के सुदृढ़ीकरण कार्य की आधारशिला रखी। उन्होंने ग्राम पंचायत किशनपुरा में सिरसा खड्ड के ऊपर 3.79 करोड़ रुपये की लागत से मलकुमाजरा चुनाड़ी पुल तथा ग्राम पंचायत सुनेड़ में 1.54 करोड़ रुपये की लागत से बेरीवाला-बघानिया पुल की आधारशिला रखी। 8.60 करोड़ रुपये की इन विकासात्मक परियोजनाओं का निर्माण बद्दी-बरोटीवाला-नालागढ़ विकास प्राधिकरण द्वारा लोक निर्माण विभाग के माध्यम से किया जाएगा।

सांसद एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने हिमाचल प्रदेश के गठन के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में विशेष कार्यक्रम आयोजित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री स्वयं एक आम परिवार से संबंध रखते हैं और गरीबों व कमजोर वर्गों की विकासात्मक ज़रूरतों को भली-भांति समझते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा आरम्भ की गई सभी नीतियों और कार्यक्रमों का उद्देश्य समाज के कमजोर वर्गों की सहायता करना है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के कठिन समय में मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व वाली राज्य सरकार ने महामारी से प्रभावी ढंग से निपटा है। उन्होंने राज्य में क्रियान्वित की जा रही विभिन्न विकासात्मक नीतियों और कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि इन नीतियों व कार्यक्रमों से आम आदमी और सबसे निचले स्तर पर रहने वाले व्यक्तियों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।

दून के विधायक परमजीत सिंह पम्मी ने अपने गृह विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए दून के लोगों की विकासात्मक आकांक्षाओं के प्रति सदैव संवेदनशील रहने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के कार्यकाल में दून विधानसभा क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की कल्याणकारी नीतियों से राज्य के लोग लाभान्वित हुए है। उन्होंने इस अवसर पर दून क्षेत्र की विकासात्मक मांगें भी मुख्यमंत्री के समक्ष रखीं।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल, राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. डेजी ठाकुर, नालागढ़ के विधायक लखविंद्र राणा, पूर्व विधायक के.एल. ठाकुर व विनोद कुमारी, भाजपा जिलाध्यक्ष आशुतोष वैद्य, गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष अशोक शर्मा, जोगिंद्रा केंद्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष योगेश भारतीय, भाजपा उपाध्यक्ष रतन पाल, उपायुक्त सोलन कृतिका कुलहरी, बद्दी बरोटीवाला नालागढ़ विकास प्राधिकरण (बीबीएनडीए) की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. ऋचा वर्मा और अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।