Movie prime
मुख्यमंत्री ने धर्मशाला के दाड़ी में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष समारोह की अध्यक्षता की
मुख्यमंत्री ने धर्मशाला के दाड़ी में प्रगतिशील हिमाचल: स्थापना के 75 वर्ष समारोह की अध्यक्षता की
 
डलहौज़ी हलचल (धर्मशाला)  : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, स्वच्छताकर्मियों तथा अग्रणी पंक्ति के अन्य कार्यकर्ताओं के साथ-साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी जरूरतमंदों को हर सम्भव सहायता सुनिश्चित की। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद लोगों को लाखों मास्क, सेनेटाइजर और खाद्य किट निःशुल्क प्रदान की गई। वह हिमाचल प्रदेश की स्थापना के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में आज धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के दाड़ी में आयोजित प्रगतिशील हिमाचल स्थापना के 75 वर्ष समारोह के दौरान सम्बोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महामारी के संकटकाल के दौरान विपक्ष ने इस संवेदनशील मुद्दे का राजनीतिकरण करने के अलावा कोई सकारात्मक कार्य नहीं किया। उन्होंने कहा कि पहले राज्य में सिर्फ दो ऑक्सीजन प्लांट थे, परन्तु अब प्रदेश में 50 पीएसए ऑक्सीजन प्लांट हैं। राज्य में दो वर्ष पहले केवल 50 वेंटिलेटर उपलब्ध थे, जबकि आज प्रदेश में विभिन्न स्वास्थ्य संस्थानों में 1020 वेंटिलेटर हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के लोगों को निःशुल्क वैक्सीन प्रदान की और हिमाचल प्रदेश ने लोगों को वैक्सीन की दोनों खुराक देने में देशभर में अग्रणी स्थान प्राप्त किया है।

उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में गठन के समय हिमाचल में केवल 301 शिक्षण संस्थान थे, जबकि आज यह संख्या 16,124 हो गई है। उन्होंने कहा कि उस समय प्रति व्यक्ति वार्षिक आय मात्र 240 रुपये थी जो आज दो लाख रुपये के जादुई आंकड़े को पार कर गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल के लोग अपनी जान खतरे में डालते हुए पारंपरिक तरीकों से जैसे-तैसे नदी-नालों को पार करते थे, लेकिन आज राज्य में 2326 से अधिक पुल हैं। हिमाचल के इस विकासात्मक सफर के लिए सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को श्रेय देते हुए जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश के गठन के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य पर तैयार किए गए वृत्तचित्र में इनका विशेष जिक्र किया गया है।

इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आभार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के गांव-गांव में पहुंचे सड़कों के जाल का पूरा श्रेय अटल बिहारी वाजपेयी को जाता है, जिनका हिमाचल और यहां के निवासियों से गहरा लगाव था। उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान देश में महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना शुरू की थी। हिमाचल प्रदेश में लगभग 50 प्रतिशत सड़कों का निर्माण इसी योजना के तहत किया गया है, जिससे राज्य का चहुुमुखी विकास विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों की समृद्धि का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

 विधायक विशाल नेहरिया ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के सक्षम नेतृत्व में धर्मशाला निर्वाचन क्षेत्र में विभिन्न विकासात्मक परियोजनाएं कार्यान्वित की गई हैं।

मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के गठन के 75 वर्षों की यात्रा के दौरान विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों को प्रदर्शित करती प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीण चौधरी, सांसद लोकसभा किशन कपूर, विधायक पवन काजल, हिमाचल पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम के उपाध्यक्ष ओ.पी. चौधरी, नगर निगम धर्मशाला के महापौर ओंकार नेहरिया, उप महापौर सर्व चंद गलोटिया, राज्य मीडिया प्रभारी राकेश शर्मा, भाजपा जिला महासचिव सचिन शर्मा, भाजपा मंडलाध्यक्ष अनिल चौधरी, उपायुक्त डॉ. निपुण जिंदल, पुलिस अधीक्षक डॉ. खुशाल शर्मा और अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।