Movie prime
डलहौज़ी को मिली बड़ी सौगातों से विपक्षी खेमे में हलचल
डलहौज़ी को मिली बड़ी सौगातों से विपक्षी खेमे में हलचल
 
डलहौज़ी हलचल (डलहौज़ी) : डलहौजी चुनाव क्षेत्र में जिला मार्केटिंग कमेटी चंबा के चेयरमैन डीएस ठाकुर के आग्रह पर सरकार के द्वारा बीते साढ़े चार वर्षों में करोड़ों रुपए के विकास कार्यों की सौगातों सहित डलहौजी उपमंडल के बनीखेत में राजकीय महाविद्यालय की सौगात दी जाने के बाद अब बाथरी क्षेत्र में विकास खंड कार्यालय की सौगात देकर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने डलहौजी विधानसभा क्षेत्र में डीएस ठाकुर का राजनितिक कद बढाने के साथ विपक्ष के बाथरी क्षेत्र की उपेक्षा के आरोपों पर भी विराम लगा दिया है।

ज्ञात हो कि बनीखेत में सरकारी महाविद्यालय की मांग करीब तीन दशक पुरानी व उपमंडल डलहौजी में विकास खंड कार्यालय की मांग लगभग दो दशक पुरनी थीं। उक्त मांगें कांग्रेस शासनकाल दौरान कई मंचों पर उठाई गई मगर डलहौजी विधानसभा क्षेत्र का छठी बार प्रतिनिधितव कर रही विधायक आशा कुमारी द्वारा दोनों ही मांगों को आजतक नजरअंदाज किया जाता रहा। सरकारी महाविद्यालय न होने के कारण क्षेत्र के अनगिनत  युवा बाहरवीं के बाद उच्च शिक्षा हासिल करने से वंचित रह जाते थे। जबकि उपमंडल के तहत आने वाली विभिन्न पंचायतों के जनप्रतिनिधियों व आम लोगों को विकास खंड कार्यालय से सम्बंधित कार्यों के लिए 50 से 70 किलोमीटर का सफर कर चुवाड़ी तक की दौड़ लगानी पड़ती थी। मगर पिछले विधानसभा चुनावों में मामूली मतों के अंतर से हार के बावजूद डीएस ठाकुर ने जनहित की मांगों को अपनी प्राथमिकता में रखा और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के आशीर्वाद से दोनों प्रमुख मांगों को पूरा करवाकर न केवल एक कुशल नेता होने का परिचय दिया है बल्कि सरकार में अपनी मजबूत पकड़ का भी परिचय दिया।

इन दोनों मांगों के पूरा हो जाने से डलहौजी चुनाव क्षेत्र में डीएस ठाकुर की बल्ले बल्ले हो हो गई है। राजनितिक सूत्रों की मने तो इन दो बड़ी सौगातों का लाभ आने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा का अवश्य मिलेगा। उधर प्रदेश सरकार द्वारा डीएस ठाकुर के आग्रह पर डलहौजी क्षेत्र को एक के बाद एक दी जा रही बड़ी सौगातों से विपक्षी खेमे में हलचल मच गई है। विपक्षी खेमा अब इस चिंता में है कि विधानसभा चुनावों में अब वे क्या मुद्दे लेकर जनता के बीच जाएँगे वहीँ डीएस ठाकुर के पास उपलब्धियों की लम्बी फेहरिस्त है।