Movie prime
13 अगस्त के शिमला ऐतिहासिक धरने के लिए तैयारी कस ले प्रदेश का हर कर्मचारी :-आजाद
13 अगस्त के शिमला ऐतिहासिक धरने के लिए तैयारी कस ले प्रदेश का  हर  कर्मचारी :-आजाद
 
डलहौज़ी हलचल (चंबा) भूषण गुरंग  : न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ हिमाचल प्रदेश, पुरानी पेंशन योजना की बहाली के लिए अपने संघर्ष में कोई कमी नहीं छोड़ रहा हैI हिमाचल प्रदेश के हर एक जिले में पेंशन संकल्प रैलियों का आयोजन किया गया जिसमें हजारों कर्मचारी सड़कों पर उतरे और  सरकार के प्रति अपना रोष प्रकट किया गया I बेहद शांतिपूर्ण अनुशासित तरीके से जिला सिरमौर में इन  रैलियों का समापन किया गया और 13 अगस्त के लिए हर कर्मचारी को शिमला महाधरने के लिए आवाहन किया गया I

 गौरतलब है कि 3 मार्च 2022 को कर्मचारियों का ऐतिहासिक धरना शिमला में किया गया था जिसमें कि लगभग एक लाख  कर्मचारी अपनी मांग को लेकर विधानसभा पहुंचे थे I सरकार की तरफ से इस आंदोलन को कुचलने का भरपूर प्रयास किया गया लेकिन एक तूफान की तरह कर्मचारी महासंघ आज भी अपनी मांग को लेकर आगे बढ़ रहा है जोकि सरकार के लिए यकीनन चिंता का विषय बना हुआ है I

कर्मचारी महासंघ के राज्य प्रवक्ता ओम आजाद ने मीडिया से  विचार साझा करते हुए जानकारी दी कि सरकार चाहे कोई भी हो कर्मचारी उस उसका अभिन्न अंग होता है I

सरकार के हर निर्णय को धरातल पर अमलीजामा पहनाने का काम एक कर्मचारी ही करता हैI एक कर्मचारी दिन रात देश सेवा में अपना सर्वस्व निछावर करता है फिर चाहे वह देश की सीमा का प्रहरी हो या किसी भी श्रेणी का कर्मचारी I

 आजाद ने बताया कि  कर्मचारी महासंघ ने हमेशा से अपनी मांग को बेहद अनुशासित और शांतिपूर्ण तरीके से सरकार के समक्ष रखा है लेकिन अभी तक पुरानी पेंशन योजना की बहाली का निर्णय लेने में सरकार  नाकामयाब रही है I

उन्होंने सरकार से पुनः आग्रह किया कि  13 अगस्त से पहले राजस्थान और  छत्तीसगढ़ की तरह ऐतिहासिक निर्णय लेकर OPS की बहाली कर्मचारी हित में की जाए I

अगर माननीय मुख्यमंत्री कर्मचारियों के हित में यह निर्णय लेते हैं तो लाखों की संख्या में कर्मचारी शिमला में उनका धन्यवाद करने के लिए धन्यवाद यात्रा निकालेंगे और मिशन रिपीट में  सरकार का  भरपूर योगदान देंगे I

लेकिन  अगर ऐसा नहीं होता तो 13 अगस्त की महारैली होना तय है I आदरणीय प्रदीप ठाकुर राज्य अध्यक्ष की अध्यक्षता में लाखों कर्मचारी अपने बच्चों, परिवारों, रिश्तेदारों के साथ शिमला की तरफ कूच करेंगे और 13 अगस्त को ऐसी महारैली का शिमला फिर से गवाह बनेगा जो कि कभी भी इतिहास में इतनी भारी संख्या में निकाली गई हो I

ओम आजाद ने हिमाचल प्रदेश के समस्त कर्मचारी साथियों से विनम्र आग्रह किया कि जिस प्रकार वर्ष 2015 से आपने संगठन का साथ दिया है, उसी प्रकार 13 अगस्त को अपने परिवार रिश्तेदारों के साथ शिमला  पहुंचकर अपनी मांग, अपने अधिकार को पुरजोर तरीके से रखें I

आज़ाद ने बताया कि हम जीतेंगे यह विश्वास है क्योंकि OPS का मुद्दा वर्तमान समय में सबसे अहम मुद्दा बनकर उभरा है जिसके लिए हिमाचल का हर कर्मचारी जिसने NPSEA का साथ दिया है बधाई जा पात्र है I

 इतिहास गवाह रहा है कि हिमाचल में सरकार बनाने के लिए कर्मचारी वर्ग  का क्या योगदान रहता आया है Iअगर वर्तमान सरकार पुरानी पेंशन बहाली के गंभीर विषय पर निर्णय नहीं लेती है तो  यकीनन हिमाचल प्रदेश का हर कर्मचारी इस बार रिवाज़ नहीं बल्कि ताज बदलेगा और मिशन डिलीट में कोई कसर नहीं छोड़ेगा I