Movie prime
हाई टैक हुई शिमला पुलिस, सेल्फ बैलेंसिंग इलेक्ट्रिक सेगवे स्कूटर से रिज व मालरोड पर होगी गश्त
हाई टैक हुई शिमला पुलिस, सेल्फ बैलेंसिंग इलेक्ट्रिक सेगवे स्कूटर से रिज व मालरोड पर होगी गश्त
 
डलहौज़ी हलचल (शिमला) : राजधानी शिमला की पुलिस अब स्मार्ट होगी। शराब पीकर गाड़ी चलाना, ओवरस्पीड से लेकर रिज व मालरोड पर शारीरिक दूरी बनाने व हुड़दंगियों पर नजर रखने के लिए आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल होगा। पुलिस को इसके लिए आधुनिक उपकरण मिले हैं। पुलिस अब सेल्फ बैलेंसिंग इलेक्ट्रिक सेगवे स्कूटर से रिंज व मालरोड पर गश्त करेगी। तेज रफ़्तार से गाड़ी चलाने वालों पर लेजर स्पीड गन से नजर रखी जाएगी। यही नहीं शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर एल्को सेंसर व स्पीड बोर्ड से नजर रहेगी। करीब 60 लाख रुपये से ये उपकरण खरीदे गए हैं।

शिमला पुलिस ने शुरुआत में दो सेल्फ बैलेंसिंग इलेक्ट्रिक सेगवे स्कूटर पुलिस दस्ते में शामिल किए हैं। शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शनिवार को हरी झंडी दिखाकर  योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने भी स्मार्ट नजर आएगी। सबसे ज्यादा कहा कि नई तकनीक के साथ यह दुर्घटनाएं शराब पीकर वाहन चलाने पर्यावरण का संदेश भी देंगे। उन्होंने और ओवरस्पीड से होती हैं। तकनीक कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत शहर की मदद से इन पर नजर रखी जा में कई काम हो रहे हैं।

सेल्फ बैलेंसिंग स्कूटर चलाने का प्रशिक्षण पुलिस ने अपने जवानों को दिया है | रिज मैदान पर शारीरिक दूरी बनाए रखने और हुड़दंगियों पर नुकेल कसने में पुलिस को मदद मिलेगी। बैटरी से संचालित प्रदूषण मुक्त इस स्कूटर पर एक ही जवान सवार हो सकेगा।