Movie prime
जल जीवन मिशन के प्रभावी क्रियान्वयन में हिमाचल सर्वश्रेष्ठ राज्य घोषितः जय राम ठाकुर
जल जीवन मिशन के प्रभावी क्रियान्वयन में हिमाचल सर्वश्रेष्ठ राज्य घोषितः जय राम ठाकुर
 
डलहौजी हलचल (मंडी ) : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मंडी जिले के धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के एक दिवसीय दौरे के दौरान चोलथरा में जनसभा को संबोधित करते हुए कुज्जाबल्ह में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई), टौरखोला में आयुर्वेदिक औषधालय, सकोह और पपलोग में स्वास्थ्य उपकेंद्र और चोलथरा में फार्मेसी कॉलेज खोलने के अलावा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सधोट में विज्ञान की कक्षाएं शुरू करने की घोषणाएं कीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि धर्मपुर क्षेत्र सेवारत और पूर्व सैनिकों के साथ-साथ पानी की किल्लत के लिए भी जाना जाता था। लेकिन, अब क्षेत्र के लगभग सभी गांवों और घरों में नल के माध्यम से पेयजल की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के प्रभावी क्रियान्वयन में हिमाचल को सर्वश्रेष्ठ राज्य घोषित किया गया है और इसका श्रेय जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह के सक्रिय दृष्टिकोण को भी जाता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में कुल 980 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास किए गए हैं जिनमें से 770 करोड़ रुपये जल शक्ति विभाग के थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सब राज्य और केंद्र की डबल इंजन सरकार के कारण संभव हुआ है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने पहले दिन से ही जहां गरीब, वहां सरकारके आदर्श वाक्य के साथ काम किया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की कल्याणकारी और विकासात्मक नीतियों एवं कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य गरीबों और अन्तिम पंक्ति के व्यक्तियों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति में सुधार लाना है।

हिमाचल प्रदेश के 75 वर्ष के सफर की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 1948 में गठन के समय इसके केवल चार जिले थे, जबकि आज 12 जिले हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में राज्य की साक्षरता दर केवल 4.8 प्रतिशत थी, जो आज बढ़कर 83 प्रतिशत से अधिक हो गई है। उन्होंने कहा कि 1948 में राज्य में केवल 228 किलोमीटर सड़कें थीं, जबकि आज राज्य के कोने-कोने को जोड़ने वाली लगभग 40,000 किलोमीटर सड़कें हैं। उन्होंने कहा कि इसका श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जाता है, जिन्होंने 60,000 करोड़ रुपये के प्रावधान के साथ प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की शुरुआत की थी और हिमाचल में लगभग 50 प्रतिशत सड़कों का निर्माण इसी योजना के तहत किया गया है। उन्होंने कहा कि अटल टनल रोहतांग भी अटल बिहारी वाजपेयी का एक सपना था, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरा किया।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार गरीबों और जरूरतमंदों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है और उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए कई योजनाएं शुरू की गई हैं।

इससे पहले, मुख्यमंत्री ने बाबा कमलाहिया की वेबसाइट का भी शुभारंभ किया और क्षेत्र की विभिन्न विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री को इस अवसर पर विभिन्न सामाजिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक संगठनों द्वारा सम्मानित किया गया। चोलथरा पहुंचने पर बड़ी संख्या में लोगों ने मुख्यमंत्री का जोरदार स्वागत किया गया।

इस अवसर पर केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि यह अपने आप में एक रिकॉर्ड है कि धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र में एक ही दिन में 980 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया गया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्ज्वला योजना के माध्यम से देश की 12 करोड़ महिलाओं को मुफ्त गैस कनेक्शन प्रदान किए। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने हिमाचल में गृहिणी सुविधा योजना के तहत 3.34 लाख से अधिक मुफ्त गैस कनेक्शन प्रदान किए। उन्होंने कहा कि राज्य में औद्योगिक विकास पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा घोषित औद्योगिक पैकेज का परिणाम था। इसी प्रकार उनके द्वारा ही आरंभ की गई पीएमजीएसवाई के कारण ग्रामीण भारत में सड़कों का जाल बिछा। उन्होंने कहा कि अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न केवल राज्य के लिए विशेष श्रेणी का दर्जा बहाल किया है, बल्कि बल्क ड्रग पार्क और मेडिकल डिवाइस पार्क के रूप में दो बड़े प्रोजेक्ट भी मंजूर किए हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रदेश में अत्यधिक बारिश के कारण हुए नुकसान की भरपाई और विकास कार्यों की बहाली के लिए केंद्र सरकार पर्याप्त धन उपलब्ध करवाएगी।

अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में राज्य सरकार ने कोरोना रोधी टीकाकरण, शिक्षा, जल जीवन मिशन और कई अन्य क्षेत्रों सराहनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। उन्होंने घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 125 यूनिट मुफ्त बिजली उपलब्ध करवाने के राज्य सरकार के निर्णय की भी सराहना की।

जल शक्ति, सैनिक कल्याण एवं राजस्व मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने मुख्यमंत्री, केन्द्रीय मंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए लगभग 980 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने अपने कार्यकाल के लगभग पांच वर्ष पूरे कर लिए हैं और इस अवधि को राज्य सरकार द्वारा आरम्भ की गई अनेक कल्याणकारी और जनहितैषी नीतियों व कार्यक्रमों के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत का जल जीवन मिशन और अन्य योजनाओं के अन्तर्गत प्रदेश को पर्याप्त धन राशि उपलब्ध करवाने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि गत अढ़ाई वर्षों के दौरान प्रदेश के विभिन्न भागों में 8.88 लाख से अधिक नल लगाए गए हैं, जबकि राज्य के बनने के बाद से प्रदेश में केवल 7.5 लाख नल ही लगाए गए थे। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगें भी मुख्यमंत्री के समक्ष रखीं।

इस अवसर पर विधायक कर्नल इंद्र सिंह व प्रकाश राणा, प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा की महासचिव वंदना गुलेरिया, प्रदेश भाजपा मीडिया सह प्रभारी रजत ठाकुर, भाजपा मंडलाध्यक्ष लेख राज, उपायुक्त मंडी अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।