Movie prime
चंबा के पर्यटन से जुड़े लोग सीखेंगे चम्बा जनपद के पारंपरिक व्यंजन
चंबा के पर्यटन से जुड़े लोग सीखेंगे चम्बा जनपद के पारंपरिक व्यंजन
 

डलहौज़ी हलचल (चंबा)  : जिला के पर्यटन से जुड़े लोग, युवाओं सहित स्वयं सहायता समूह से जुड़े लोग,होम स्टे संचालकचंबा जनपद के पारंपरिक व्यंजनों की जानकारी लेने के साथ ही इन्हें बनाना भी सीखेंगे। समाज सेवी संस्था ईरा नॉट ऑन मैप, सांभ व सेवा हिमालया संस्था के साथ मिलकर तीन दिवसीय कार्यशाला का आयोजन करने जा रही है। इसका शुभारंभ बुधवार को एनएफसीआई उदयपुर से होगा। इसके बाद वीरवार व शुक्रवार को एचटूओ हाउस चमीनू में आगामी दो दिनों तक कार्यशाला चलेगी। कार्यशाला के कोऑर्डिनेटर मगनदीप ने बताया कि तीन दिनों तक चलने वाली कार्यशाला में भाग लेने वाले लोगों को चम्बा जनपद के पारंपरिक व्यंजनों के बारे में जानकारी दी जाएगी। साथ ही इन्हें बनाने के बारे में बारीकी से समझाया जाएगा, ताकि इन व्यंजनों को संरक्षण मिल सके। साथ ही बाहरी क्षेत्रों सहित देश के कोने कोने से यहां पहुंचने वाले पर्यटकों को चंबा के पारंपरिक व्यंजनों का लुत्फ उठाने का मौका मिले उन्हें यह समझाया जा सके इन व्यंजनों को कब से बनाया जाता रहा है व इनका हमारी जीवन शैली व संस्कृति में क्या महत्व है। 

कार्यशाला में मौजूद सभी लोगों को चंबा की संस्कृति के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी जाएगी, ताकि जानकारी जुटाने के बाद यह लोग पर्यटकों तक इस जानकारी को साझा कर सकें। ऐसा करने से चंबा की संस्कृति और पारंपरिक व्यंजनों के बारे में लोगों को पता चलेगा इससे जिला में पर्यटकों की आमद बढ़ेगी। इससे रोजगार के साधन भी बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि कार्यशाला को बेहतर हुआ रूचि के अनुसार बनाने के लिए संस्थाओं की ओर से तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। यहां आने वाले लोगों को किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा। लोगों को तथ्यों के अनुसार जानकारी दी जाएगी, जिससे उनके ज्ञान में बढ़ोतरी होगी। इसका चंबा के पारंपरिक व्यंजनों से पर्यटन को काफी लाभ मिलेगा।

कार्यशाला में भाग लेने वाले लोग अधिक जानकारी के लिए 9816220009 नंबर पर भी संपर्क कर सकते हैं।