Movie prime
पण्डित जवाहरलाल नेहरू आर्युविज्ञान महाविद्यालय व अस्प्ताल चम्बा में रिविजन हिप सर्जरी का सफल ऑपरेशन
पण्डित जवाहरलाल नेहरू आर्युविज्ञान महाविद्यालय व अस्प्ताल चम्बा में रिविजन हिप सर्जरी का सफल ऑपरेशन
 

 

डलहौजी हलचल (चंबा) : पण्डित जवाहरलाल नेहरू आर्युविज्ञान महाविद्यालय व अस्प्ताल चम्बा में रिविजन हिप सर्जरी का सफल ऑपरेशन किया गया।

बताते चले कि 55 वर्षीय महिला सुरेंद्र कौर निवासी देवीदेहरा की इस साल फरवरी महीने में कुल्हे की हड्डी टूटी थी, जिनका हिमाचल प्रदेश से बाहर ऑपरेशन हुआ था लेकिन उनकी हड्डी जुड़ी नहीं थी और ये ऑपरेशन सफल नहीं हो सका था। जिसकी वजह से महिला मरीज को काफी समस्या पेश आ रही थी। उन्हे मोटापा, चलने फिरने में समस्या, डिप्रेशन, हड्डी के न जुडने जैसी समस्या आनी शुरू हो गयी थी। इस हालत में मरीज का ऑपरेशन करना बहुत जरूरी हो गया था।

पण्डित जवाहरलाल नेहरू आर्युविज्ञान महाविद्यालय व अस्पताल चम्बा में ओरोथो विभाग की टीम ने जिसमे प्राइमरी सर्जन डॉक्टर माणिक सहगल, प्राइमरी असिस्टेंट डॉक्टर गुर्जट सिंह संधू शामिल थे ने महिला का सफल ऑपरेशन किया । इनके साथ विभागाध्यक्ष डॉक्टर सुभाष चंद, डॉक्टर राकेश वर्मा, एनथीसिया डॉक्टर सलोनी सूद, डॉक्टर गरिमा,डॉक्टर विवेक, डॉक्टर नीतिक्षा, डॉक्टर विपन, डॉक्टर आकांशा, ओटीए रमेश ठाकुर मुन्ना और स्टाफ नर्स श्वेता अज़हर, वार्ड अटेंडेड अभिषेक की टीम में करीब घण्टे तक इस ऑपरेशन को अंजाम दिया जिसमें पुरानी रॉड और पुराने कुल्हे को निकाल कर नया कुल्हा लगाया गया।

इस मौके पर कार्यकारी प्राचार्य डॉक्टर पंकज गुप्ता ने समस्त टीम को बधाई दी और कहा कि इस तरह का ऑपरेशन चम्बा में पहली बार हुआ है। और जो ऑपरेशन पहले चम्बा से बाहर होते थे आज वो चम्बा में हो रहे है। जिसके लिए समस्त चम्बावासियो को बधाई दी।

 इस मौके पर डॉक्टर माणिक सहगल ने कहा कि ये ऑपरेशन चम्बा में पहली बार हुआ है। जो कि पूरे 2 घण्टे तक चला, हमारा सिर्फ एक ही मकसद था की उपचार मिल सके और कम समय में वो ठीक हो कर अपने पैर पर चल फिर सके। जिसके के लिए मरीज ने बहुत हिम्मत रखी हुई थी जिस वजह से ये एक सफल ऑपरेशन कामयाव हो सका।

वहीं महिला मरीज सुरेंद्र कौर ने ऑर्थो विभाग डॉक्टर माणिक सहगल और उनकी समस्त टीम के साथ कार्यकारी प्राचार्य डॉक्टर पंकज गुप्ता और पूरे मेडिकल कॉलेज अस्पताल स्टाफ का धन्यवाद किया और कहा कि जिस तरह उन्होंने उनकी दिन रात सेवा की है उसका वो दिल से आभार धन्यवाद करती है।