Movie prime
मुख्यमंत्री ने शिवधाम के पहले चरण का कार्य दो माह में पूरा करने के निर्देश दिए
मुख्यमंत्री ने शिवधाम के पहले चरण का कार्य दो माह में पूरा करने के निर्देश दिए
 
डलहौज़ी हलचल (मंडी) : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मंडी में शिवधाम के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया और अधिकारियों व निष्पादन एजेंसी को इस कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मंडी के कांगणीधार में पौने दो सौ करोड़ रुपये की लागत से बन रहे इस दिव्य शिवधाम के पहले चरण का कार्य आगामी दो माह में पूर्ण करने के प्रयास किए जाए ताकि अगस्त माह के अंत तक शिवधाम परियोजना का लोकार्पण किया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आशीर्वाद से प्रदेश में पर्यटन विकास के लिए एशियन विकास बैंक पोषित 2100 करोड़ रुपये की परियोजना को स्वीकृति मिली है। इससे प्रदेश में पर्यटन विकास गतिविधियों को नई गति मिलेगी। शिवधाम के दूसरे चरण का कार्य भी इस परियोजना के अन्तर्गत किया जाएगा। जिसके लिए शीघ्र ही समस्त औपचारिकताएं पूरी कर कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिवधाम के पहले चरण के कार्य पर 40 करोड़ रुपये व्यय किए जा रहे हैं। यह एक महत्वकांक्षी परियोजना है और इससे मंडी, विश्व में धार्मिक-सांस्कृतिक पर्यटन मानचित्र पर मजबूती से उभरेगा और विश्व भर के पर्यटकों को मंडी में पर्यटन गंतव्य का नया स्वरूप देखने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि लगभग साढ़े नौ हेक्टेयर क्षेत्र में शिवधाम का निर्माण किया जा रहा है, यह मंडी जिला के लिए पर्यटन तथा धार्मिक आस्था की दृष्टि से बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि यह उत्तर भारत का पहला ऐसा धार्मिक पर्यटन स्थल होगा जो बाहर से आने वाले पर्यटकों के साथ-साथ स्थानीय लोगों के आकर्षण का केंद्र भी होगा।

उन्होंने कहा कि शिवधाम परियोजना का शिलान्यास 27 फरवरी, 2021 को किया गया था। मंडी में शिवधाम से विकास को नए आयाम मिलेंगे तथा लोगों के लिए रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे।  इससे पहले, मुख्यमंत्री ने परिधि गृह मंडी में जन समस्याएं भी सुनीं।

इस अवसर पर बल्ह के विधायक इंद्र सिंह गांधी, जिला परिषद मंडी के अध्यक्ष पाल वर्मा, उपायुक्त अरिंदम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, नगर निगम मंडी के आयुक्त एच.एस. राणा, भाजपा सदर मंडी के मंडलाध्यक्ष मनीष कपूर, पंचायत समिति सदर मंडी के उपाध्यक्ष भुवनेश्वर, नगर निगम के पार्षद पंकज कपूर, विभिन्न विभागों के अधिकारी और गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।