Movie prime
राजपुरा जेल में कैदियों समेत दो सौ लोगों ने किया योगाभ्यास
राजपुरा जेल में कैदियों समेत दो सौ लोगों ने किया योगाभ्यास
 

डलहौज़ी हलचल (चंबा) : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर आर्ट आफ लिविंग की ओर से राजपुरा स्थित जेल में कैदियों व जेल स्टाफ को योगाभ्यास करवाया गया। योगाभ्यास आर्ट आफ लिविंग के मीडिया प्रबंधक मनुज शर्मा, सुनील शर्मा तथा नीरज महाजन की देखरेख में हुआ, जिसमें कैदियों सहित करीब दो सौ लोगों ने योगाभ्यास किया। इस दौरान मनुज शर्मा ने योग के महत्व से भी कैदियों व स्टाफ को अवगत करवाया गया।

राजपुरा जेल में कैदियों समेत दो सौ लोगों ने किया योगाभ्यास

उन्होंने बताया कि आर्ट आफ लिविंग की ओर से मंगलवार को करीब 150 देशों में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया। उन्होंने योग के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जो व्यक्ति योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाता है। बीमारियां उससे कोसों दूर रहती हैं। वह एक स्वस्थ जीवनशैली अपनाता है, जिससे चेहरे पर हर समय मुस्कान रहती है। योग शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ मन को भी स्वस्थ रखता है। ऐसे में कार्य को बेहतर ढंग से करने की क्षमता बढ़ जाती है। योगाभ्यास शारीरिक और मानसिक तौर पर सशक्त बनाने के साथ मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य को भी बढ़ाता है। यह मानवीय रिश्तों के बीच में संतुलन बनाने में भी सहायक सिद्ध हुआ है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति योग के साथ जुड़ जाता है, गलत आदतें उसके पास नहीं आती हैं।

राजपुरा जेल में कैदियों समेत दो सौ लोगों ने किया योगाभ्यास

उन्होंने उपस्थित लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि योग को अपनी दिनचर्या का अहम हिस्सा बनाएं। आर्ट आफ लिविंग की ओर से समय-समय पर लोगों को योग का महत्व बताया जाता है। साथ ही योग क्रियाएं भी करवाई जाती हैं। इसके अलावा अन्य गतिविधियों के माध्यम से समाज कल्याण की दिशा में कार्य किया जा रहा है।