Movie prime
ग्रामीणों ने किया किहार थाने का घेराव, जमकर हुई नारेबाजी
ग्रामीणों ने किया किहार थाने का घेराव, जमकर हुई नारेबाजी
 
 

डलहौज़ी हलचल (सलूणी) रेखा कुमारी : करीब दो सप्ताह पूर्व स्यूल नदी में मिले राजेश के शव मामले में हत्या की आशंका जताए जाने के बाद पुलिस द्वारा किसी नतीजे पर न पहुंचने से खफा ग्रामीणों ने आज थाना किहार का घेराव कर दिया और जम कर पुलिस प्रसाशन मुर्दाबाद के नारे लगाए। ऐसे में माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। साथ में उन्होंने पुलिस को दो टूक शब्दों में कहा कि जब तक पुलिस मामले में संलिप्त चारों आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करती है तब तक सड़क से नहीं उठेंगे और चक्का जाम करेंगे।  

ग्रामीणों के द्वारा किये गए चक्का जाम से सड़क के दोनों ओर गाड़ियों की लम्बी कतारें लग गई और लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। ग्रामीण इस मांग पर अड़े थे की जब तक जिला प्रशासन के अधिकारी या एस पी चंबा मौके पर नहीं आते तब तक वे सड़क से नहीं हटेंगे । ऐसे में जम्मू कश्मीर से मणिमहेश यात्रा के लिए जा रहे यात्रियों की गाडियां चक्का जाम में फंस गई ।

गौरतलब है कि इसी माह 16 अगस्त को राजेश कुमार का शव स्यूल नदी में मिला था। इसके बाद राजेश कुमार के पिता तुला राम ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाते हुए हत्या की आशंका जताते हुए चार लोगों पर शक जाहिर किया था।

शव मिलने के बाद शिकायत पत्र के जरिये पिता तुला राम ने बताया था कि 12 अगस्त 2022 को उसका बेटा राजेश घर से सुबह करीब 10 बजे अपनी ड्यूटी के लिए सुरंगानी की तरफ निकला था। वहां जाकर उसने अपनी पत्नी के साथ फोन पर बात की थी। इस दौरान उसने कहा था कि वह थोड़ी देर में फिर से उससे बात करेगा। लेकिन, इसके बाद शाम करीब चार बजे तक उसका फोन बंद हो गया था। इस पर स्वजनों की ओर से उससे लगातार संपर्क साधा जा रहा था। लेकिन, फोन स्विच आफ ही रहा। इसके अगले दिन परिजन ग्रामीणों के साथ राजेश की तलाश में जुट गए। उन्होंने सुरंगानी में तलाश की। लेकिन, वहां पर उसके बारे में कुछ भी पता नहीं चल पाया। ऐसे में उन्होंने पुलिस चौकी सुरंगानी में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। पिता राजेश ने बताया कि 16 अगस्त बेटे का शव स्यूल नदी में मिलने की सूचना मिली थी।