Movie prime
चूहन पंचायत में 5 लाख रूपयों का गबन के आरोप,तीन सड़कों को डंगे लगाने के नाम पर डकारी राशि
चूहन पंचायत में 5 लाख रूपयों का गबन के आरोप,तीन सड़कों को डंगे लगाने के नाम पर डकारी राशि
 
डलहौज़ी हलचल (डलहौज़ी) :-  जिला चंबा के विकास खंड भटियात की चूहन पंचायत में करीब 5 लाख रूपयों के गबन का मामला प्रकाश में आया है। खंड विकास अधिकारी को शिकायत करने पर संबंधित पंचायत के विरूद्ध कार्रवाई तो नहीं हुई मगर अरोपियों को बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है जिसमें रातोंरात जेसीबी लगाकर खानापूर्ति के प्रयास किए जा रहे हैं। शिकायतकर्ता बासा गांव निवासी समाजसेवी रविंदर सिंह ने बताया कि  सूचना का अधिकार अधिनियम के तहत संबंधित पंचायत सचिव से जानकारी मांगी गई तो कोई न कोई अडिंगा डालकर जानकारी उपलब्ध नहीं करवाई गई। फिर 1100 नंबर पर शिकायत की तो वहां से भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। आखिर मनरेगा की वेबसाइट से पता चला कि पंचायत ने  जिन तीन सड़कों को डंगे लगाने के लिए 4,87, 941  पए खर्च किए गए हैं, वास्तव में वहां डंगे के नाम पर एक अदद बोरी सीमेंट नहीं लगा है।

रविंदर सिंह ने बताया कि पंचायत प्रधान, सचिव और संबंधित निर्माण तथा सर्तकता समितियों ने मिलीभगत से बड़े पैमाने सरकारी राशि का गबन  किया है। एंबूलेंस रोड़ मीहणू से लेकर पंचायत घर तक कागजों में सड़क पर डंगे लगाए गए  हैं मगर हकीकत में इस संपर्क मार्ग पर कोई डंगा नहीं लगा।

कागजों में 91 बोरी सीमेंट लगा है जिस पर 31,668 रूपया खर्च किया गया वहीं पत्थर पर भी 30 हजार की राशि व्यय की गई बताई गई है। इसके अतिरिक्त 1121 फुट बजरी पर भी 23,541 रूपया खर्च किया गया है जबकि 598 फुट रेत का भी 11302 रूपये व्यय दर्शाया गया है। उक्त कुल 1,61,722 रूपए की राशि का सीधा सीधा  गबन किया गया है जिसमें एक भी डंगा नहीं लगा। भ्रष्टाचार की हदें तो पंचायत ने उस वकत् पार कर दी जब इसी सड़क को एबंूलेंस रोड़ गांव मिहणू से गांव चूहन भी दर्शाया गया जिसमें 204 बोरी सीमेंट, 16 क्रेट, 1412 फुट बजरी, 1341 फुट रेत इस्तेमाल किया गया जिस पर 1, 92,932 रूपया खर्च किया गया मगर सड़क तो वही है जिसमें 1,61,722 रूपए खर्च दर्शाकर भी कोई डंगा नहीं लगाया। रविंदर सिंह ने बताया कि  तीसरा गबन पंचायत ने घराटनाला से टरवाड़ एंबूलेंस सड़क के नाम से किया जिसमें 91 बोरी  सीमेंट, 377 किलोग्राम क्रेट, 594 फुट रेत और 1122 फुट बजरी के बिल संलग्न हैं जिस पर 1, 33, 287 रूपए खर्च किया गया मगर यहां पर भी एक भी डंगा नहीं लगा।

 इस 4,87,941 रूपए के गबन के तमाम दस्तावेज खंड विकास अधिकारी भटियात को भेज कर उचित कार्रवाई की मांग की गई मगर कार्रवाई के स्थान पर महज औपचारिकता और आरोपियों के बचाने के प्रयास दिखाई दे रहे हैं जबकि जांच के वक्त शिकायतकर्ता को भी साथ लेकर जाना चाहिए था। यही नहीं उक्त मीहणू से पंचायत घर एंबूलेंस रोड़ के लिए 5 लाख रूपएएंबूलेंस रोड़ गांव मीहणू से गांव चूहन के लिए 9 लाख 20 हजार रूपए जबकि एंबूलेंस रोड़ गांव घराटनाला से टरवाड़ के लिए 9 लाख 96 हजार रूपए स्वीकृत हैं जिनमें लेबर के मस्टर रोल फर्जी होना स्वाभाविक है।

चूहन पंचायत

चूहन पंचायत

चूहन पंचायत

चूहन पंचायत

चूहन पंचायत