Movie prime
लम्बित राजस्व मामलों को दिसम्बर, 2021 तक सुलझाने के निर्देश
 
डलहौज़ी हलचल (सोलन) : उपायुक्त सोलन कृतिका कुल्हरी ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिला में राजस्व विभाग से सम्बन्धित विभिन्न लम्बित मामलों को दिसम्बर, 2021 तक सुलझाया जाए। कृतिका कुल्हरी आज यहां जिला के राजस्व अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहीं थीं।

कृतिका कुल्हरी ने कहा कि राजस्व विभाग प्रत्यक्ष तौर पर आम आदमी से जुड़ा है और राजस्व विभाग की कार्यप्रणाली का सही संचालन महत्वपूर्ण है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आम आदमी से जुड़े मामलों को समयबद्ध सुलझाया जाए और राजस्व से सम्बन्धित विभिन्न प्रमाण पत्र इत्यादि निर्धारित समय पर उपलब्ध करवाए जाएं।

उपायुक्त ने निर्देश दिए कि अवैध कब्जों से सम्बन्धित मामलों को शीघ्र निपटाने के लिए कार्य योजना बनाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि 02 वर्ष से लम्बित अवैध कब्जों के मामलों को 15 दिन के भीतर निपटाएं। उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों के लिए तिथि निर्धारित कर 03 दिन के भीतर सूचना उपायुक्त कार्यालय को प्रेषित करें। भू-तक्सीम के मामलों को 03 माह के भीतर निपटाया जाए। उन्होंने कहा कि राजस्व मामलांे को सुलझाने के लिए लक्ष्य निर्धारित कर पुनः समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि ऋण वसूली के मामलों में समयबद्ध कार्यवाही सुनिश्चित बनाई जाए तथा प्राथमिकता के आधार पर ऋण वसूली का कार्य किया जाए।

कृतिका कुल्हरी ने कहा कि भूमि की निशानदेही का कार्य अत्यन्त महत्वपूर्ण है। इस दिशा में कानूनगो विशेष ध्यान दें। उन्हांेने कहा कि यह सुनिश्चित बनाया जाए कि सभी ग्रामीण राजस्व अधिकारी मौके पर पहुंचकर गिरदावरी करें।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सेवा संकल्प हेल्पलाइन तथा न्यायालयों में लम्बित मामलों के सम्बन्ध में सूचनाएं समय पर प्रेषित की जानी चाहिएं ताकि इनका त्वरित निपटारा किया जा सके।

कृतिका कुल्हरी ने उपमण्डलाधिकारियों को समय निर्धारित कर एक माह में कम से कम 02 पटवार खानों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।

उन्होंने ग्रामीण राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों की सूची पंचायत कार्यालयों के बाहर प्रदर्शित करें ताकि इस महत्वाकांक्षी योजना के कार्यान्वयन में पूर्ण पारदशर््िाता बनी रहे। यह आवश्यक सोशल आॅडिट की दिशा में भी सहायक सिद्ध होगा।

कृतिका कुल्हरी ने निर्देश दिए कि लम्बित विभागीय जांच के मामलों को शीघ्र निपटाया जाए।

बैठक में राजस्व अधिकारियों की मांगों पर भी विस्तृत चर्चा की गई।

अतिरिक्त उपायुक्त ज़फ़र इकबाल, उपमण्डलाधिकारी सोलन अजय यादव, उपमण्डलाधिकारी अर्की शहज़ाद आलम, उपमण्डलाधिकारी कसौली डाॅ. संजीव धीमान, उपमण्डलाधिकारी कण्डाघाट डाॅ. विकास सूद, जिला राजस्व अधिकारी केशव राम, जिला के तहसीलदार, नायब तहसीलदार एवं अन्य राजस्व अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।