Movie prime
कृषि निविष्टियों की खरीद के लिए किसान क्रेडिट कार्ड बेहतर विकल्प, बैंक रखे प्राथमिकता -उपायुक्त
कृषि निविष्टियों की  खरीद  के लिए किसान क्रेडिट कार्ड  बेहतर विकल्प, बैंक रखे प्राथमिकता -उपायुक्त 
 
डलहौज़ी हलचल (चंबा)  :-  उपायुक्त डीसी राणा ने कहा कि  किसानों को क्रेडिट कार्ड की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए ज़िला के  सभी बैंक प्रबंधक प्राथमिकता के आधार पर कार्य व्यवस्था सुनिश्चित बनाएं । वे आज जिला स्तरीय बैंकर्स समिति  की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए बोल रहे थे । उन्होंने यह निर्देश भी दिए कि प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, आधार सीडिंग और किसान क्रेडिट कार्ड पर  नीति आयोग द्वारा निर्धारित  मानकों के अनुरूप लक्ष्य हासिल  किए जाएं । उपायुक्त ने कहा कि चूंकि किसानों को  कृषि निविष्टियों की तत्‍काल खरीद  के लिए किसान क्रेडिट कार्ड एक  बेहतर विकल्प है । ऐसे में जिला के सभी किसानों को क्रेडिट कार्ड की सुविधा से जोड़े जाने के लिए बैंक प्रबंधन द्वारा विशेष प्राथमिकता रखी जानी चाहिए ।

ऋण जमा अनुपात के तहत विभिन्न बैंकों द्वारा किए गए कार्यों के तहत प्रगति की समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने असंतोष जाहिर करते हुए ऋण जमा अनुपात को और बढ़ाने  के निर्देश दिए । उन्होंने विशेषकर भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और हिमाचल प्रदेश सहकारी बैंक के स्थानीय प्रबंधन से शाखा स्तर पर विश्लेषण करने और संबंधित बैंक के समन्वयकों के साथ मासिक समीक्षा बैठक कर आवश्यक कदम उठाने को भी कहा । डीसी राणा ने बैंकों के माध्यम से चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी को दूरदराज के क्षेत्रों तक प्रचार- प्रसार के निर्देश देते हुए कहा कि  मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना, ग्रामीण आजीविका मिशन, शहरी आजीविका मिशन, पीएम स्वनिधि जैसी महत्वपूर्ण  योजनाओं  के अंतर्गत प्रायोजित ऋण प्रस्तावों का तय सीमा के भीतर निपटारा सुनिश्चित किया जाए ।

बैठक में अग्रणी जिला प्रबंधक भूपेंद्र सिंह ने अगवत किया कि वित्त वर्ष 2021 -22 के अंतर्गत ऋण जमा अनुपात के निर्धारित लक्ष्य 755 करोड़ के तहत माह सितंबर तक 532 करोड़ का लक्ष्य हासिल किया गया है ।  अनुपात को और बेहतर बनाने के लिए उन्होंने आवश्यक कार्यवाही का भी आश्वासन दिया । इस दौरान उपायुक्त डीसी राणा ने नाबार्ड के तहत वित्त वर्ष 2022- 23 के लिए तैयार की गई संभाव्यता युक्त ऋण योजना पुस्तिका का विमोचन भी किया।

बैठक में सहायक महाप्रबंधक भारतीय रिजर्व बैंक अमरेंद्र गुप्ता, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड साहिल स्वांगला , महाप्रबंधक उद्योग चंद्रभूषण, क्षेत्रीय प्रबंधक हिमाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक अनुराग जोशी सहित समस्त बैंक और जिला अधिकारी मौजूद रहे।